PM Modi: पीएम करेंगे 14,300 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन

PM Modi: पीएम करेंगे 14,300 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन

Share This

PM Modi, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी असम में मनाए जाने वाले ‘रोंगाली बिहू’ त्योहार के पहले दिन शुक्रवार को राज्य का दौरा करेंगे और इस दौरान लगभग 14,300 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे।पीएमओ के मुताबिक, प्रधानमंत्री असम में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), गुवाहाटी और तीन अन्य मेडिकल कॉलेज का लोकार्पण करेंगे और ‘आपके द्वार आयुष्मान’ अभियान की शुरुआत करेंगे।

इसके अनुसार, प्रधानमंत्री ‘असम एडवांस्ड हेल्थ केयर इनोवेशन इंस्टीट्यूट’, पलाशबाड़ी और सुआलकुची को जोड़ने वाले ब्रह्मपुत्र नदी पर पुल और शिवसागर के ‘रंग घर’ के सौंदर्यीकरण कार्य की आधारशिला भी रखेंगे।पीएमओ ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री दोपहर लगभग 12 बजे एम्स, गुवाहाटी पहुंचेंगे और इसके नवनिर्मित परिसर का निरीक्षण करेंगे।

Asad Ahmad Encounter Update: करीब 5 घंटे में हुआ असद का एनकाउंटर ! कसारी मसारी में दफनाने की तैयारी

इसके बाद एक सार्वजनिक समारोह में, वह एम्स, गुवाहाटी और तीन अन्य मेडिकल कॉलेजों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे।’’पीएमओ ने कहा कि एम्स, गुवाहाटी में कामकाज का शुरू होना असम और पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए एक महत्वपूर्ण अवसर होगा।उसने कहा, ‘‘यह देशभर में स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी ढांचे को मजबूत करने की प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धता का एक प्रमाण भी है।’’प्रधानमंत्री ने मई, 2017 में इस अस्पताल का शिलान्यास किया था।

कुल 1,120 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से निर्मित, एम्स गुवाहाटी 30 आयुष बिस्तरों सहित 750 बिस्तरों वाला एक अत्याधुनिक अस्पताल है। इस अस्पताल में हर साल 100 एमबीबीएस के छात्रों की वार्षिक प्रवेश क्षमता होगी। यह अस्पताल पूर्वोत्तर के लोगों को विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करेगा।

Salman Khan: सोशल मीडिया पर छाई सलमान की जिम की तस्वीरें, देखिए

पीएमओ के अनुसार प्रधानमंत्री जिन तीन चिकित्सा महाविद्याालयों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे, उनमें नलबाड़ी चिकित्सा महाविद्यालय, नागांव चिकित्सा महाविद्यालय और कोकराझार चिकित्सा महाविद्यालय शामिल हैं। इन तीनों महाविद्याालयों का निर्माण क्रमशः लगभग 615 करोड़ रुपये, 600 करोड़ रूपये और 535 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है।

इनमें से प्रत्येक में आपातकालीन सेवाओं, आईसीयू सुविधाओं, ओटी और डायग्नोस्टिक सुविधाओं आदि सहित ओपीडी/आईपीडी सेवाओं के साथ 500 बिस्तरों वाले शिक्षण अस्पताल संलग्न हैं। प्रत्येक मेडिकल कॉलेज में 100 एमबीबीएस छात्रों की वार्षिक प्रवेश क्षमता होगी।

ये भी पढ़ें..

>>Mukhyamantri Tirth Darshan Yojana 2023: इन जिलों से जाएंगे बुजुर्ग, क्या होगा पूरा शैड्यूल, जानें, आदेश जारी

>>Baisakhi 2023: आज देशभर में बैशाखी की धूम ! गोल्डन टेंपल से लेकर पंजाब के कई गुरूद्वारों में श्रद्धालुओं ने की अरदास

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password