महिलाओं ने तैयार किया फूल-पत्तियों से हर्बल गुलाल

रायपुर: राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (बिहान) से जुड़ी जांजगीर-चांपा जिले के स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने हर्बल गुलाल तैयार किया है। हर्बल गुलाल बनाने में गुलाब, गेंदा, चांदनी, रात-रानी, टेशू के फूलों सहित पत्ती एवं पालक, लाल भाजी का उपयोग किया गया है।

समूह कलस्टर प्रभारी ओमेश्वरी साहू, अध्यक्ष पूनम केवट, सुशीला बरेठ, गायत्री पैगवार, अनिता कौशिक, सविता, सावित्री रात्रे एवं अन्य सदस्यों ने बताया कि फूलों, पत्तियों एवं भाजियों के माध्यम से विभिन्न रंगों की गुलाल तैयार की गई है। विकासखंड अकलतरा के कापन कलस्टर के उज्जवला महिला संकुल संगठन की महिलाओं ने दो महीने पूर्व से गुलाल बनाने की तैयारी शुरू की थीं। हरा गुलाल बनाने के लिए पालक भाजी, तुलसी, हरी पत्तियों का उपयोग किया गया है। चुकन्दर का रस, मदार के फूल को उपयोग से लाल गुलाल बनाया गया है। इसी तरह हल्दी, चंदन, गेंदा फूल से पीला गुलाल बनाया गया है।

समूह की महिलाओं द्वारा तैयार किया गया गुलाल जांजगीर-चांपा स्थित जिला पंचायत परिसर में विक्रय किया जा रहा है। गुलाल के अलावा सुगंधित अगरबत्ती, पैरदान, फिनाइल एवं मसाले भी एक भी छत के नीचे वाजिब दाम पर उपलब्ध कराया गया है। बलौदा में रानी लक्ष्मीबाई स्व-सहायता समूह के द्वारा एवं बम्हनीडीह में एकता महिला स्व-सहायता समूह के द्वारा गुलाल तैयार की गई है। जिसे बलौदा, बम्हनीडीह जनपद पंचायत परिसर में स्टाल लगाकर विक्रय किया जा रहा है। पहले दिन ही बड़ी संख्या में लोगों द्वारा हर्बल गुलाल एवं अन्य सामग्री को पंसद किया और खरीदा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password