जानना जरूरी है: क्या होगा अगर सिर्फ 5 सेकंड के लिए धरती से ऑक्सीजन गायब हो जाए?

oxygen

नई दिल्ली। मनुष्य के लिए पृथ्वी पर जीवित रहने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज क्या है? आप कहेंगे रोटी, कपड़ा और मकान। हां ये भी जरूरी है पर सबसे जरूरी जो चीज है वो है ‘ऑक्सीजन’ । क्योंकि इसके बिना हम धरती पर रहने के बारे में सोच भी नहीं सकते। खासकर कोरोना काल में हम इसके महत्व को अच्छी तरह समझ चुके हैं। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि ऑक्सीजन सिर्फ 5 सेकंड्स के लिए धरती से गायब हो जाये तो क्या होगा?

आप क्या सोचते हैं?

कई लोग कहेंगे कि हम तो 1 मिनट तक सांस रोक लेते हैं। ऐसे में 5 सेकंड्स में ज्यादा कुछ नहीं होगा। अगर आप भी ऐसा सोचते है तो आप गलत है। क्योंकि 5 सेकेंड्स में क्या कुछ होगा आप सोच भी नहीं सकते हैं। बतादें कि ऑक्सीजन सिर्फ हम इंसानों के लिए ही नहीं बल्कि पेड़, पौधे, जनावर और लगभग सभी के लिए जरूरी है। आइए जानते हैं अगर सिर्फ 5 सेकंड्स के लिए धरती से ऑक्सीजन ख्त्म हो जाए तो क्या हाल होगा?

ओजोन परत गायब हो जाएगी

सबसे पहले 5 सेकंड्स के लिए धरती से ऑक्सीजन गायब होने पर हमारी पृथ्वी की ऊपरी सतह पर मौजूद ओजोन परत गायब हो जाएगी, क्योकि इस परत पर अधिकतर ऑक्सीजन के अणु मौजूद होते हैं। ऐसे में ऑक्सीजन खत्म होते ही यह परत गायब हो जाएगी। ओजोन परत ही है जो हमें सूरज की हानिकारक UV किरणों से बचाती है। अगर ये नहीं होगी तो धरती पर इतनी तेज गर्मी हो जाएगी कि लोगों की त्वचा जलने लगेगी और बहुत सी त्वचा सम्बंधित रोग होने की संभावना होगी।

हमारी कोशिकाएं फट जाएगी

ऑक्सीजन ना होने के कारण आसमान हमें नीला कम और काला ज्यादा दिखाई देने लगेगा। इसके अलावा ऑक्सीजन की कमी के कारण हमारे आसपास की हवा का दबाव कम होने से हमारे कान का अंदरूनी हिस्सा फट जाएगा।ऑक्सीजन ही कान तथा बाहर के हवा के दबाव को समान बनाये रखने में मदद करता है। सासाथ ही जीवित कोशिकाओं में ऑक्सीजन मौजूद होती है, लेकिन ऑक्सीजन की कमी के कारण कोशिकाओं में केवल हाइड्रोजन ही रहेगा, जिससे कोशिकाएं फट जाएंगी।

मकान और इमारतें गिरने लगेंगी

साथ ही ऑक्सिजन खत्म होने पर धरती अपनी सतह से 10-12 किलोमीटर नीचे खिसक जाएगी, जिससे धरती में मौजूद सीमेंट व कंक्रीट के निर्माण से बने घर व इमारतें टूटनी लग जायेगी। पानी H2O यानी कि हायड्रोजन व ऑक्सिजन से मिल कर बना है लेकिन ऑक्सिजन न होने के कारण धरती पर मौजूद पानी वाष्प बन कर उड़ने लगेगा जिससे बड़े बड़े महासागर तेजी से सूखने लग जाएंगे और पानी मे रहने वाले जीवों का अस्तित्व भी संकट में आ जायेगा।

हवाई जहाज धरती पर गिरने लगेंगे

गाड़ी के इंजन ईंधन को जलाने के लिए हवा में मौजूद ऑक्सीजन का इस्तेमाल करते है पर ऑक्सीजन ना होने के कारण सभी गाड़ी अपनी जगह पर रुक जाएंगे और हवाई जहाज भी 5 सेकण्ड्स तक धरती की और तेजी से गिरने लगेंगे और अलग धरती से कुछ ऊपर ही उड़ रहे होंगे तो दुर्घटनाग्रस्त हो जाएंगे। इसके अलावा धरती पर रहने वाले सभी जीव जंतुओं और पेड़ पौधों का अस्तित्व खतरे में आ सकता है ।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password