क्या है Fastag? और क्यों जरूरी है आपकी कार के लिए, जानें

जब आप एक शहर से दूसरे शहर जाते है तो आप टोल पॉइंट पर लगी लंबी गाड़ियों की कतार में जरूर फंसे होंगे। टोल नाके पर लगी लंबी-लंबी गाड़ियों की लाइनों के चलते अपके समय की बर्बादी होती है। साथ ही ईंधन का नुकसान भी होता है। लेकिन जिन लोगों के वाहनों में फास्टैग लगा होता है। उनका समय और ईधन की बचत होती है। क्योंकि आपकी कार में लगा फास्टैग (Fastag) आपको झट से टोल नाका पार करा देता है। फास्टैग (Fastag) वालों के लिए टोल नाकों पर अलग से लाईन होती है। इससे आपका समय, ईधन और कुछ पैसों की बचत हो जाती है।

क्या है फास्टैग

अब आप सोच रहे होंगे की फास्टैग (Fastag) क्या है? फास्टैग (Fastag) को गाड़ी में लगाने से क्या फायदा होता है? फास्टैग से जुड़ी हर चीज को जानना बेहद ही जरूरी है। दरअसल, फास्टैग (Fastag) नेशनल हाईवे अथॉरिटी द्वारा बनाया गया एक इलेक्ट्रॉनिक टोल सिस्टम है। फास्टैग एक स्टीकर जैसा होता है जिसे वाहन के आगे की ओर विंडो स्क्रीन पर लगाया जाता है। फास्टैग (Fastag) रेडिओ फ्रिक्वेन्सी आइडेंटिफिकेशन की तरह काम करता है। जब भी आप टोल प्लाजा से गुजरते है तो आपको टोल नाके पर रूकर टैक्स नहीं देना पड़ता है। क्योंकि आपकी गाड़ी में लगे फास्टैग (Fastag) को स्कैनर स्कैन कर लेता और भुगतान हो जाता है। फास्टैग को आप खुद से रिचार्ज भी कर सकते हैं।

क्यों शुरू किया गया फास्टैग

फास्टैग (Fastag) सड़क परिवहन मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया है। फास्टैग (Fastag) के मध्यम से टोल प्लाजा पर लगने वाली लंबी-लंबी लाइन से निजात पाने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। फास्टैग (Fastag) के जरिए टोल टैक्स कलेक्ट करने में भी आसानी होती है। यह पैसा सीधे नेशनल हाईवे अथॉरिटी के पास जाता है। इससे अवैध वसूली की समस्या का भी समाधान हुआ है। फास्टैग (Fastag) एक नहीं बल्कि कई तरह के होते हैं। जैसे की छोटे वाहनों के लिए नारंगी रंग का फास्टैग होता है। प्राइवेट कार के लिए बैंगनी रंग का फास्टैग (Fastag) होता है। इसके अलावा मशीनरी वाहनों के लिए काले रंग का फास्टैग (Fastag) इस्तेमाल होता है। वहीं कई गाड़ियों के लिए हरे रंग और पीले रंग के फास्टैग (Fastag) का इस्तेमाल होता है। गुलाबी रंग के फास्टैग का भी प्रयोग होता है।

गाड़ी में नही लगाए पुराना फास्टैग

अगर आपके वाहनों में लगा हुआ फास्टैग (Fastag) भी अवैध हो चुका है तो आप इसे हटाकर नया ले लें। इसकी अपेक्षा अगर आपका फास्‍टैग (Fastag) बैंक अकाउंट से लिंक हैं या उसमें कुछ राशि है तो आपको संबंधित बैंक जाकर दूसरे फास्‍टैग के लिए आवेदन करना होगा। इसमें आप पुराने फास्‍टैग में बची राशि को नए फास्‍टैग में ट्रांसफर कर सकते हैं। इसके बाद आपको पुराने फास्टैग को मिसयूज होने से बचाने के लिए नष्ट करना होगा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password