Ujjain Poisonous liquor: जहरीली शराब मामले में CM शिवराज के बाद अब पूर्व सीएम कमलनाथ ने बनाई जांच टीम

Ujjain Poisonous liquor,  उज्जैन: जिले में जहरीली शराब पीने से 11 मजदूरों के मौत का मामला अब तुल पकड़ता जा रहा है। तो वहीं इसे लेकर राजनीति भी शुरू हो गई है। सीएम शिवराज के बाद अब पूर्व सीएम कमलनाथ ने भी मामले में जांच के लिए अगल से विधायकों की टीम बनाई है जो पूरे मामले की जांच कर कमलनाथ को रिपोर्ट सौपेंगे। आरोपी के तौर पर अब तक आठ लोगों की गिरफ्तारी हुई है। वहीं लापरवाही बरतने पर TI समेत 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड कर दिया गया है।

पोस्टमार्टम में हुआ खुलासा

सभी शवों के पोस्टमार्टम के इस बात का खुलासा हुआ है कि सभी मौतें जहरीली शराब पीने से हुई हैं। वहीं प्रदेश सरकार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए संबंधित अधिकारियों के साथ आपात बैठक की है। बैठक में उन्होंने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश देते हुए कहा कि, अन्य कई स्थानों पर ऐसी वस्तुएं बेची जा रही हैं। उन सभी का पता लगाकर इसके नेटवर्क को तत्काल तोड़ा जाए।

सीएम शिवराज ने दिए जांच के आदेश

ऐसी वस्तुओं को बेचने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने को कहा है। उन्होंने आगे कहा कि ऐसे नशीले पदार्थ बेचने वालों को कड़ी सजा मिले। बैठक में उन्होंने सभी 11 मजदूरों की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि यह घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

कमलनाथ ने भी बनाई जांच टीम

मिली जानकारी के अनुसार इस मामले में प्रदेश के पूर्व CM कमलनाथ ने भी जांच के लिए 4 विधायकों की टीम का गठन किया है। जो मौके पर जाकर इस घटना के कारणों का पता लगाएंगे और पूरी रिपोर्ट कमलनाथ को सौंपेगें।
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, उनकी सरकार जाते ही प्रदेश में शराब माफिया बेखौफ होकर सक्रीयता से काम कर रहे हैं। प्रदेश सरकार उपचुनाव की तैयारियों में लगी है, शिवराज जी ने तो जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया है। साथ ही महिला सुरक्षा पर बोले कि प्रतिदिन बहन-बेटियों के साथ दरिंदगी की घटनाएं बढ़ रही है, लेकिन सरकार चुप होकर बैठी है।

उन्होंने आगे कहा कि, सरकार कुंभकरण बन के सोई हुई है, लेकिन कांग्रेस ऐसा नहीं करेगी। कांग्रेस माफियाओं और मिलावट खोरों से प्रदेश को मुक्त कराने का अभियान बंद नहीं करेगी। इसके लिए सड़कों पर भी संघर्ष करेंगी।

ये है पूरा मामला

दरअसल बुधवार को उज्जैन के तीन थाना इलाकों में 7 मजदूरों की अचानक मौत हो गई थी। इसके बाद आज यानि की गुरुवार को 4 अन्य मजदूरों के भी शव बरामद हुए है। जिन्हें मिलाकर 24 घंटे में 11 मजदूरों की मौत जहरीली शराब पीने से हो चुकी है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password