पौने चार लाख युवाओं को पारदर्शी तरीके से दी गई नौकरी : योगी

लखनऊ, 19 जनवरी (भाषा) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि पिछले तीन वर्ष दस माह में राज्य में 3.75 लाख युवाओं को उनकी योग्यता के अनुसार पारदर्शी तरीके से नौकरी दी गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ मंगलवार को अपने सरकारी आवास पर माध्यमिक शिक्षा के 436 नव चयनित प्रवक्ताओं एवं सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र वितरित करने के लिए आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री आवास पर हुए इस कार्यक्रम में छह चयनित अभ्यर्थियों को मुख्यमंत्री के हाथों नियुक्ति पत्र मिला जबकि कार्यक्रम से डिजिटल माध्यम से जुड़े शेष अभ्‍यर्थियों को स्थानीय जन प्रतिनिधियों द्वारा नियुक्ति पत्र प्राप्त हुए।

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “उत्तर प्रदेश में चयन का मापदंड केवल योग्‍यता है और एक भी चयन पर सवाल या संदेह नहीं किया जा सकता। जो युवा चयनित हुए हैं, उनकी प्रतिभा, क्षमता और मेहनत ने उन्हें सफलता दिलाई है।”

नव चयनित प्रवक्ताओं और सहायक अध्यापकों को सफलता की बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस उपलब्धि ने आपके भीतर जिस आत्मबल और आत्मविश्वास को बढ़ाया है, वह प्रदेश के स्वर्णिम भविष्य की झलक दिखाता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 19 मार्च 2021 को जब वर्तमान राज्य सरकार चार वर्ष कार्यकाल पूरा कर रही होगी, तब तक चार लाख युवाओं की सरकारी नौकरी का सपना पूरा हो चुका होगा। उन्होंने कहा कि ‘मिशन रोज़गार’ का क्रम सतत जारी रहेगा।

इस मौके पर मुख्‍यमंत्री ने कुछ अभ्‍यर्थियों से भी संवाद किया जिन्‍होंने सरकार की सराहना की। सफल अभ्यर्थियों ने कहा कि इतनी पारदर्शिता होगी, कल्पना न थी।

इससे पहले, उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा विभाग ने पारदर्शी तंत्र का उदाहरण प्रस्तुत किया है। आज नवीन संबद्धता से लेकर, स्थानांतरण, रिजल्ट सहित सभी व्यवस्था ऑनलाइन हो गई हैं।

भाषा आनन्‍द प्रशांत

प्रशांत

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password