इंदौर में खुले मैदान को बनाया गया अस्थायी कोविड सेंटर, पहले चरण में 500 बिस्तर

इंदौर: शहर में लगातार बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या के कारण अस्पतालों में मरीजों को भर्ती करने के लिए बेड में कमी आ रही थी। लेकिन 5 दिन में 2 हजार मरीजों के लिए बनने वाला अस्थाई कोविड सेंटर बनाया गया है। 4 अलग-अलग चरणों में बनने वाला यह सेंटर कोरोना कहर के बीच राहत की खबर है।

इस विशाल चिकित्सा परिसर के रविवार को शुरू होने की संभावना है। जानकारी के मुताबिक इस विशाल चिकित्सा परिसर में ऐसे कोरोना संक्रमितों को एडमिट किया जाएगा जो होम आइसोलेशन में हैं और जिनके पास घर में जगह या सुविधाएं नहीं हैं।

राधास्वामी सत्संग ब्यास को बनाया गया कोविड सेंटर

प्रशासन ने राधास्वामी सत्संग ब्यास को भी कोविड केयर सेंटर बनाने का काम मंगलवार से शुरू किया था, जो कि शनिवार को लगभग 500 बिस्तर लगाए गए। इन बिस्तरों की संख्या 2000 तक पहुंच सकती है।

100 मरीजों को ठहरने की व्यवस्था बनाई गई

इस बात की जिम्मेदारी ईडीए, सीईओ विवेक श्रोत्रिय को सौंपी गई है। श्रोत्रिय ने बताया कि देश के किसी भी शहर में एक ही स्थान पर इतने मरीजों को ऐसी व्यवस्थाएं देने की यह बड़ी पहल होगी। उधर धार में बनाए गए दत्तात्रेय कॉलेज कोविड केयर सेंटर में भी 100 मरीजों के ठहरने की व्यवस्था एक साथ दी गई है। इस व्यवस्था के अंतर्गत मेडिकल संबंधी सेवाओं के लिए विशेषज्ञों की टीम तैनात रहेगी।

बिना लक्षण वाले संक्रमितों को रखा जाएगा

कलेक्टर ने बताया कि परिसर में बिना लक्षण वाले संक्रमितों को रखा जाएगा। उनके भोजन आदि का इंतजाम भी वहीं किया जा रहा है। परिसर में स्वस्थ्य वातावरण बनाने के लिए मरीजों के लिए हर दिन सांस्कृतिक कार्यक्रम भी रखे जाएंगे, जिससे की टेंशन फ्री रहे।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password