Chhatisgharh corona case: शिक्षक बने कोरोना वॉरियर, घर-घर जाकर कर रहे जांच

Chhatisgharh corona case: शिक्षक बने कोरोना वॉरियर, घर-घर जाकर कर रहे जांच

बस्तर: कोरोना (Corona in bastar) को प्रकोप को रोकने के लिए अब शिक्षक भी सामने आए है। दरअसल जिला प्रशासन ने कोरोना जांच की क्षमता बढ़ा दी है। जिसके तहत अब रोजाना शहर के 48 वार्डों के साथ ग्रामीण इलाकों में भी जांच तेजी से की जा रही है। इसके लिए प्रशासन ने बकायदा टीम गठित की है। जो लोगों के घरों तक जाकर उनकी जांच करने के साथ ही उन्हें जागरूक भी कर रही है। इस टीम में शिक्षकों को भी शामिल किया गया है।

घर-घर जाकर कर रहे जांच

जिले में युवोदय योजना के जरिए युवाओं का समूह गांव-गांव और घर-घर जाकर लोगों के अंदर से कोरोना का डर निकालने के साथ ही उन्हें जागरूक कर रहे हैं। इन इसके लिए ट्रेनिंग भी दी जा चुकी है। खास बात यह है कि, बढ़े पैमाने में जांच करने के लिए प्रशाशन ने इस टीम में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, शिक्षक और स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया है।

जांच करने के लिए 433 टीम गठित

बस्तर कलेक्टर के मुताबिक, कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए जिले में टेस्टिंग (Corona Testing) अब वर्मान समय में तीन गुना बढ़ा दी गई है। शहर के 48 वार्डों के साथ ग्रामीण अंचलों के लिए 433 टीमों का भी गठन किया गया है। जिससे रोजाना बड़े पैमाने पर लोगों की कोरोना जांच की जा सके।

प्रदेश में कोरोना का 98 हजार का आकड़ा पार

आपको बता दें, छत्तीसगढ़ में कोरोना (Chhattisgarh corona case) संक्रमितों का आकड़ा 98 हजार के पार पहुंच चुका है। वहीं कोरोना से बस्तर में में 2,671 लोग संक्रमित हो चुके हैं। लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए प्रदेश सरकार से राजधानी रायपुर सहित अन्य कई जिलों में 8 दिनों का लॉकडाउन लगाया है। जिससे कोरोना के बढ़ रहे मामलों को कंट्रोल किया जा सके ।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password