Surya ka Gochar 2021 : हों जाएं सावधान! दो दिन बाद सूर्य होने वाले हैं नीच के

surya ka gochar

नई दिल्ली। अभी तक कन्या राशि में चल रहे Surya ka Gochar in Tula 2021 सूर्य 17 अक्टूबर यानि आज से दो दिन बाद तुला राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं। ज्योतिष शास्त्र में तुला सूर्य की नीच राशि मानी जाती है। इसलिए सूर्य अब नीच के हो जाएंगे। सूर्य की यह स्थिति अच्छी नहीं मानी जाती है। इस दौरान रोगों के बढ़ने की आशंका रहेगी। इसी के साथ जिनकी कुंडली में सूर्य की स्थिति अच्छी है। उनके सूर्य का गोचर लाभ देंगे।

सातवें अंक पर होते हैं नीच के
पंडित राम गोविन्द शास्त्री के अनुसार सूर्य को ज्ञान और आरोग्यता का कारक माना जाता है। सूर्य देव पहले अंक यानि मेष पर उच्च के माने जाते हैं। तो वहीं सातवें अंक पर यानि तुला पर नीच के हो जाते हैं। जब यह नीच हो जाते हैं तो आरोग्यता में कमी आकर रोगों के बढ़ने की आशंका बढ़ जाती है।

इन राशि के जातकों को रखना होगा ध्यान
ज्योतिषाचार्यों की मानें तो जिन जातकों की कुंडली में सूर्य अच्छे हैं उनके तुला संक्रांति या तुला के गोचर से शुभ फल मिलेगा। जबकि जिन राशि के जातकों की कुंडली में इनकी स्थिति अच्छी नहीं है। उन्हें विशेष सतर्क रहने की जरूरत है।

तुला संक्रांति –

सूर्य का किसी राशि Tula Sankranti 2021 में प्रवेश करने पर उसे उस संक्रांति के नाम से जाना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, एक वर्ष में 12 संक्रांति (Sankranti) मनायी जाती हैं। तुला संक्रांति 17 अक्टूबर 2021,दिन रविवार को है। संक्रांति को स्नान दान के लिए खास माना जाता है। इस दिन पितरों के लिए भी दान, पुण्य करने की परंपरा है।

संक्रांतियों के नाम –

मकर संक्रांति

कुम्भ संक्रांति

मीन संक्रांति / फूलदेई

मेष संक्रांति/ पना संक्रांति

वृषभ संक्रांति

मिथुन संक्रांति

कर्क संक्रांति / हरेला

सिंह संक्रांति

कन्या संक्रांति

तुला संक्रांति

वृश्चिक संक्रांति

धनु संक्रांति

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password