राजस्थान में दस महीने बाद खुले स्कूल, पहले दिन नहीं दिखा उत्साह

जयपुर, 18 जनवरी (भाषा) राजस्थान में लगभग दस महीने के बाद स्कूल सोमवार को खुले लेकिन पहले दिन कम ही छात्र छात्राएं कक्षाओं में आए।

राज्य में लगभग दस महीने से शिक्षण कार्य के लिए बंद स्कूलों में 9 से 12वीं तक की कक्षाएं, विश्वविद्यालय व महाविद्यालय की अन्तिम वर्ष की कक्षाएं, कोचिंग सेन्टर तथा सरकारी प्रशिक्षण संस्थान सोमवार से फिर खुले।

सरकार द्वारा इस संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश व परिचालन प्रक्रिया जारी की गई है। स्कूल प्रबंधकों व संचालकों की ओर से विद्यार्थियों की गर्मजोशी से अगवानी की गयी और उनका उत्साह बढ़ाने के लिए व्याख्यान भी हुए।

जयपुर के सुबोध पब्लिक स्कूल के प्रवक्ता संजय पाराशर ने कहा, ‘‘आज विशेषकर दसवीं व 12वीं कक्षा में विद्यार्थियों की संख्या काफी कम रही। उम्मीद है कि यह आने वाले दिनों में बढ़ेगी। संभवत: अभिभावक अभी अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिहाज से थोड़ा और इंतजार कर रहे हैं।’’ कक्षाओं में अधिकतम 50 प्रतिशत विद्यार्थी ही आ सकते हैं और हमने अभिभावकों से लिखित में सहमति ली है।

उन्होंने कहा कि 10वीं व 12वीं कक्षाओं का पाठ्यक्रम लगभग समाप्त हो चुका है और बोर्ड पूर्व इम्तहान जल्द ही होने हैं।

सोडाला इलाके के यक्ष पब्लिक स्कूल के प्राचार्य बी एल शर्मा ने कहा कि पहले दिन लगभग 30 प्रतिशत विद्यार्थी ही कक्षाओं में आए।

वहीं राज्य सरकार ने सावधानी बरतते हुए सम्बद्ध इलाकों में तैनात आईएएस व आरएएस अधिकारियों की ड्यूटी लगाई कि वे पहले दिन यानी सोमवार को स्कूलों में जाकर देखें कि वहां तय परिचालन नियमों का पालन हो रहा है। इसके तहत अधिकारी स्कूलों में मुआयना करने पहुंचे। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने खुद सीकर जिले के कई स्कूलों में जाकर स्कूल में बरती जा रही सावधानियों का निरीक्षण लिया।

भाषा पृथ्वी अर्पणा

अर्पणा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password