Myanmar Protest: म्यांमार में बवाल जारी, प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले दागे

यांगून। (एपी) देश में एक दिन पहले सुरक्षा बलों की गोलीबारी में कम से 18 लोगों की मौत की खबरों के बावजूद सोमवार को म्यांमा (Myanmar Protest) के सबसे बड़े शहर यांगून में सैन्य तख्तापलट के विरोध में प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे। प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिये पुलिस ने आज उनपर आंसू गैस के गोले दागे। प्रदर्शनकारी शहर में लेदान सेंटर चौराहे पर जुटने का प्रयास कर रहे थे तभी पुलिस ने उन्हें वहां से खदेड़ना शुरू कर दिया।

धारा 505 (बी) के तहत दंड

प्रदर्शनकारी (Myanmar Protest)घटनास्थल से इधर-उधर भागते हुए और गैस के प्रभाव से बचने के लिये चेहरे के धुलने का प्रयास करते हुए दिखे। स्वतंत्र ‘म्यांमा नाउ’ समाचार एजेंसी की खबर के मुताबिक राजधानी नेपीता में पद से हटाई गईं देश की नेता आंग सान सू ची सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये अदालत में पेश हुईं। इसमें कहा गया कि कथित तौर पर अशांति भड़काने के लिये उन पर दंड संहिता  की धारा 505 (बी) के तहत आरोप तय किये गये हैं।

आंग सान सू ची पर दो आरोप 

अदालत की पेशी से जुड़े अन्य विवरण तत्काल उपलब्ध नहीं हो पाए। सू ची पर पहले से ही दो अन्य आरोप हैं जिनमें से एक बिना पंजीकरण के आयातित वॉकी-टॉकी रखने का है और दूसरा कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार रोकने के लिये लोगों की भीड़ सीमित रखने के लिये प्राकृतिक आपदा प्रबंधन कानून के तहत जारी आदेश का उल्लंघन करने से संबंधित है। सू ची (75) को शुरू में सेना द्वारा नेपीता में उनके आवास में हिरासत में रखा गया था लेकिन नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी के उनके साथी सदस्यों ने कहा कि उन्हें अब कहां रखा गया है इस बारे में चीजें स्पष्ट नहीं हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password