Blind Murder Khulasa: पुलिस ने अंधे कत्ल का किया पर्दाफाश, जयश्रीराम नहीं बोलने पर उतारा था मौत के घाट

रायसेन। प्रदेश के रायसेन जिले में आने वाले सलामतपुर में हुए एक पुजारी के अंधे कत्ल का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। पुजारी की हत्या गांव के ही एक सनकी आरोपी ने की थी। पुलिस ने आरोपी को जंगल से हत्या करने वाली कुल्हाड़ी समेत गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने पुजारी की जयश्रीराम न बोलने पर कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने बताया कि ग्रामीणों के मुताबिक आरोपी सनकी है। वह पहले भी हत्या करने के प्रयास कर चुका है। आरोपी के खिलाफ पहले ही दो हत्या के प्रयास के मामले दर्ज हैं। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। यहां से आरोपी को जेल भेज दिया गया है।

यह है पूरा मामला…
यह मामला रायसेन जिले में आने वाले नरखेड़ा गांव का है। यहां आरोपी संजू वंशकार शुक्रवार को गांव में ही बने आश्रम से गुजर रहा था। संजू ने यहां के पुजारी बाबा बद्री प्रसाद को देखा तो उसने जयश्रीराम किया। संजू की बात का पुजारी ने कोई जवाब नहीं दिया और उसे फटकार कर भगा दिया। यह बात संजू को नागवारा गुजरी। शनिवार को संजू ने पुजारी बाबा की हत्या का फैसला लिया। देर रात तक वह पुजारी के सोने का इंतजार करता रहा। जैसे ही शनिवार रात 1 बजे पुजारी सोए तो संजू ने कुल्हाड़ी से उनके सिर पर वार कर दिया।

संजू ने कुल्हाड़ी मार-मारकर पुजारी की हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी संजू जंगलों में छुपने चला गया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। जांच में पुलिस को जानकारी मिली कि हत्या की रात संजू आश्रम के आस-पास ही घूम रहा था। पुलिस ने संजू को संदिग्ध मानकर खोज करना शुरू कर दी। पुलिस ने दो दिन की तलाश के बाद आरोपी संजू को बरजोरपुर पहाड़ी जंगल से खोज निकाला। संजू के पास से हत्या करने वाली कुल्हाड़ी भी बरामद की गई है। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। इसके बाद आरोपी को जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी संजू के खिलाफ पहले भी हत्या के प्रयास के मामले दर्ज हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password