मॉस्को उतरते ही नवलनी को हिरासत में लिया गया

मास्को, 18 जनवरी (एपी) रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के आलोचक एवं विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी को जर्मनी से रूस में प्रवेश करते समय मास्को हवाईअड्डे पर रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

नवलनी को अगस्त में ‘नर्व एजेंट’ (जहर) दिया गया था, जिसके चलते वह गंभीर रूप से बीमार पड़ गये थे और उनका जर्मनी में उपचार हुआ था। करीब पांच महीनों तक जर्मनी में रहे विपक्षी नेता ने इस घटना के लिए क्रेमलिन को जिम्मेदार ठहराया है।

नवलनी को मास्को के शेरेमेतयेवो हवाईअड्डे पर पासपोर्ट नियंत्रण में हिरासत में लिए जाने की संभावना पहले ही जताई जा रही थी, क्योंकि रूस की कारागार सेवा ने कहा है कि नवलनी ने गबन और धन शोधन के मामले में 2014 में दोषी ठहराये जाने संबंधी निलंबित सजा की परोल की शर्त का उल्लंघन किया है।

कारागार सेवा ने कहा था कि नवलनी को इस मामले में अदालत का आदेश आने तक हिरासत में रखा जाएगा। नवलनी की अदालत में पेशी संबंधी किसी तारीख की अभी घोषणा नहीं की गई है।

सेवा ने पहले कहा था कि वह अनुरोध करेंगे कि नवलनी अपनी शेष साढ़े तीन साल की कारावास की सजा पूरी करें।

नवलनी (44) ने बर्लिन में विमान से बैठते समय उन्हें गिरफ्तार किए जा सकने की आशंका के बारे में कहा था, ‘‘यह असंभव है। मैं एक निर्दोष व्यक्ति हूं।’’

इस गिरफ्तारी से रूस में तनाव बढ़ गया है। देश में इस साल संसदीय चुनाव होने हैं, जिनमें नवलनी का संगठन क्रेमलिन समर्थक उम्मीदवारों को हराने की कोशिश करेगा।

नवलनी ने बर्लिन से जाने का निर्णय स्वयं लिया और उन पर जर्मनी छोड़ने का कोई दबाव नहीं था।

‘ह्यूमन राइट्स वाच’ के कार्यकारी निदेशक केनेथ रोथ ने ट्वीट किया, ‘‘एलेक्सी नवलनी का रूस लौटना वाकई बहादुरी भरा कदम है, जबकि सरकारी एजेंटों ने उन्हें एक बार मारने की कोशिश की थी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन वह रूस में लोकतंत्र समर्थक आंदोलन का हिस्सा बनना चाहते हैं, ना कि एक निर्वासित असंतुष्ट बनना चाहते हैं।’’

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा नामित राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने रूसी प्राधिकारियों से नवलनी को रिहा करने की अपील की है।

अमेरिका के निवर्तमान विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा कि अमेरिका नवलनी को गिरफ्तार किए जाने के फैसले की ‘‘कड़ी निंदा’’ करता है।

पुतिन के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने गिरफ्तारी संबंधी प्रश्नों का उत्तर देते हुए कहा, ‘‘क्या उन्हें जर्मनी में गिरफ्तार किया गया? मुझे जानकारी नहीं है।’’

पुतिन की तरह पेस्कोव भी नवलनी का नाम लेने से बचते हैं।

नवलनी के कई समर्थक रविवार को वनुकोवो हवाईअड्डे पर एकत्र हुए, जहां उनका विमान उतरने वाला था, लेकिन विमान को बिना कोई कारण बताए शेरेमेतयेवो ले जाया गया।

राजनीतिक गिरफ्तारियों पर नजर रखने वाले ‘ओवीडी-इंफो’ संगठन ने कहा कि वनुकोवो में कम से कम 53 लोगों को गिरफ्तार किया गया और शेरेमेतयेवो में कम से कम तीन लोगों को हिरासत में लिया गया।

नवलनी, पिछले साल अगस्त में सर्बिया से मास्को लौटने के दौरान एक विमान में गंभीर रूप से बीमार हो गये थे। उन्हें ‘नर्व एजेंट’ दिया गया था, जिसके लिए वह रूसी राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन को जिम्मेदार ठहराते हैं। हालांकि, क्रेमलिन ने विपक्षी नेता को जहर देने में अपनी भूमिका होने से बार-बार इनकार किया है।

भाषा सिम्मी प्रशांत

प्रशांत

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password