Naseeruddin Shah: अभिनेता ने तालिबान की वापसी का जश्न मनाने वाले भारतीय मुसलमानों की आलोचना की

Naseeruddin Shah

मुंबई। विख्यात अभिनेता नसीरुद्दीन शाह Naseeruddin Shah ने अफगानिस्तान में तालिबान द्वारा सत्ता पर काबिज होने पर खुश होने वाले भारतीय मुसलमानों के एक वर्ग की आलोचना की और कहा कि यह चिंता का विषय है। पिछले महीने तालिबान ने काबुल पर कब्जा करने के बाद अफगानिस्तान की सत्ता हथिया ली थी।

शाह ने ट्विटर पर एक वीडियो डाला है जो वायरल हो रहा है। इसमें वीडियो में उन्होंने कहा कि, हर भारतीय मुसलमान को यह सोचना चाहिए कि उन्हें अपने मजहब में “सुधार और आधुनिकता” Naseeruddin Shah चाहिए या वे “बर्बरता” के पुराने मूल्यों के साथ जीना चाहते हैं।

शाह ने वीडियो में कहा, “ अफगानिस्तान की सत्ता पर तालिबान का काबिज होना पूरी दुनिया के लिए चिंता का कारण है, लेकिन भारतीय मुसलमानों के एक वर्ग द्वारा बर्बरता का स्वागत करना कम खतरनाक नहीं है। हर भारतीय मुसलमान को अपने आप से पूछना चाहिए कि क्या वह इस्लाम Naseeruddin Shah में सुधार या आधुनिकता चाहता है या बीती कुछ सदियों के बर्बरता के मूल्यों को अपनाना चाहता है।”

शाह (71) ने मिर्जा गालिब की शायरी का हवाला देते हुए कहा कि अल्लाह के साथ उनका नाता बेतकल्लुफ है। उन्होंने कहा, “मुझे राजनीतिक मजहब नहीं चाहिए।” शाह ने कहा Naseeruddin Shah कि भारतीय मुसलमान बाकी दुनिया से अलग रहे हैं और उन्हें उम्मीद है कि आगे भी ऐसा ही रहेगा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password