MP Weather Update: प्रदेश में बारिश के लिए करना होगा इंतजार! इस दिन होगी झमाझम बारिश

भोपाल। प्रदेशभर में पिछले दिनों से पड़े सूखे के बाद अब मानसून वापस लौट आया है। बीते दिनों से प्रदेश के 17 जिलों में झमाझम बारिश भी देखने को मिली है लेकिन मानसून के वापस आने के बाद भी प्रदेश के कुछ जिलों में बारिश का सिलसिला थम सा गया। सिस्टम के वापस एक्टिव होने से जहां प्रदेश में झमाझम बारिश की संभावनाएं जाताई जा रही थी। वह सिस्टम मध्यप्रदेश से शिफ्ट होकर गुजरात चले गया है। इस वजह से मानसून पर रोक लग गई है। वहीं हवा की दिशा और तापमान में भी बढ़ोतरी हो गई है। मौसम विभाग द्वारा बताया जा रहा है कि सिस्टम के टूट जाने से मानसून टुकड़ों में बट गया है जिस वजह से प्रदेश के कई हिस्सों में कहीं-कहीं हल्कि बौछारे पड़ने की संभावना है। वहीं प्रदेश में 18-19 जुलाई को सिस्टम फिर से डेवलप हो रहा है। जिससे झमाझम बारिश होने की उम्मीद है।

इस कारण नहीं हो रही बारिश
मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में जिस सिस्टम से प्रदेश में झमाझम बारिश की संभावना बन रही थी। वह सिस्टम तेजी से मूव होकर गुजरात की तरफ चले गया है। दो दिन पहले मानसून झारखंड की तरफ था जो रविवार को छत्तीसगढ़ और मप्र को क्रॉस करते हुए गुजरात की ओर बढ़ गया। जिस वजह से प्रदेश में रविवार को झमाझम बारिश देखी गई थी। वहीं अब एक बार सिस्टम फिर से कमजूर पड़ने से प्रदेश में मानसून थम गया है। इस कारण तापमान में भी बढ़ोतरी देखी गई है।

प्रदेश में एक्टिव है मानसून
मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश मे मानसून अभी एक्टिव है, जिस वजह से कहीं-कहीं बारिश हो रही है। लेकिन सिस्टम सही तरह से बन नहीं पा रहा है जो कई हिस्सो में बारिश को रोक रहा है। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक प्रदेश में बारिश तो देखी जाएगी लेकिन 4,5 दिन तेज बारिश की संभावना नहीं है। प्रदेश में 18-19 जुलाई को एक और सिस्टम डेवलप हो रहा है। इससे तेज बारिश की उम्मीद है

इन जिलों में हो सकती है गरज चमक के साथ बूंदाबांदी

जबलपुर, रीवा, शहडोल, ग्वालियर, भोपाल और इंदौर के संभागों में गरज, चमक के साथ बूंदाबांदी हो सकती। वहीं प्रदेश के कुछ जिलों में बिजली गिरने की भी संभावना है जिसमें भोपाल, होशंगाबाद, उज्जैन, ग्वालियर शामिल है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password