MP SCHOOL CLOSED :15 अप्रैल से फिर बंद होंगे स्कूल! शिक्षा मंत्री ने दिये संकेत

भोपाल: एक कहावत है जान है तो जहान है और इस गर्मी को देखते हुए अभिभावक अभी से निजी स्कूलों में भी गर्मी की छुट्टी की मांग कर रहे हैं। वहीं इस संबंध में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने यह संकेत दिए कि भीषण गर्मी के कारण प्रदेश के निजी स्कूल भी बंद करने पर विचार चल रहा है। सरकार जल्द ही कोई ऐसा आदेश लेकर आ सकती है जिससे बच्चों के अभिवावकों को राहत की खबर मिल सकती है।

इंदर सिंह परमार ने दिये संकेत!

परमार ने कहा कि इस बार सरकारी स्कूलों के बच्चों को अप्रैल में नहीं, बल्कि जून में बुलाया जाएगा। अप्रैल में पूरा प्रदेश भीषण गर्मी के चपेट में है। ऐसे में सरकारी स्कूलों में ग्रीष्मावकाश के बाद ही नया सत्र शुरू किया जा रहा है। इस बार अप्रैल के बदले 15 जून से नया सत्र शुरू होगा। मंत्री ने कहा कि कई अभिभावक भी परेशान हो रहे हैं। स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों से इस संबंध में चर्चा चल रही है। 15 अप्रैल के बाद निजी स्कूलों में छुट्टी किए जाने की संभावना है। हालांकि अभिभावकों की मांग पर राजधानी भोपाल में कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बीते मंगलवार को आदेश जारी कर सभी सरकारी व निजी स्कूलों का समय सुबह सात से दोपहर 12 बजे तक कर दिया। कुछ अन्‍य शहरों में भी दोपहर 12 बजे तक ही स्‍कूल लगाने के आदेश जारी किए गए हैं। इसके बावजूद भी निजी स्कूल के बच्चे धूप में तप रहे हैं।

राजधानी के कई स्कूलों से मिली है शिकायत

वहीं राजधानी के कुछ स्कूलों ने कलेक्टर के आदेश का पालन नहीं किया है। विद्यार्थियों को भीषण गर्मी का सामना करना पड़ रहा था। इस कारण स्कूलों का समय बदला गया। बता दें, कि कलेक्टर के पास कुछ स्कूलों में प्रार्थना के समय बच्चों के दोपहर में चक्कर आने से गिरने की शिकायत भी मिली थी। इसके बाद तत्काल प्रभाव से बीते बुधवार से स्कूलों के समय में परिवर्तन कर दिया गया था। इसके बावजूद दो शिफ्ट में लगने वाले स्कूलों का कुछ भी नहीं हो पाया है। इसमें राजधानी का कैंपियन स्कूल और केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-3 दो पाली में लगने के कारण दोपहर 12 बजे के बाद दूसरी शिफ्ट लगाई जा रही है। इस कारण बच्चों को दोपहर में चिलचिलाती धूप का सामना करना पड़ रहा है। जिला प्रशासन दो शिफ्ट में चलने वाले स्कूलों के संबंध में निर्णय लेने वाले थे, लेकिन कुछ भी नहीं हुआ। अभी भी कैंपियन स्कूल में एक पाली सुबह 7 से 11रू45 बजे तक और दूसरी पाली की छुट्टी 12.45 बजे होती है। बसों की संख्या कम होने के कारण दोनों पाली में एक घंटे का गैप रखा जाता है। वहीं केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-3 में पहली पाली 7 से 12 बजे तक और दूसरी पाली दोपहर 12.30 बजे से शाम 6 बजे तक संचालित की जा रही है। दोपहर में बच्चों को स्कूल पहुंचने में परेशानी हो रही है। कई बच्चे इन स्कूलों में दस से बारह किमी तक परेशान हो रहे हैं।

बच्चे तपती धूप में हो रहे हैं परेशान

भीषण गर्मी के कारण स्कूलों से छुट्टी भले ही 12 बजे हो जाती है, लेकिन गर्मी में बच्चों को वैन और बस में तपना पड़ रहा है। ऐसे ही बच्चे धूप में परेशान हो रहे हैं। इस कारण बच्चों की तबियत खराब होने की शिकायत मिल रही है। बच्चों की आंखें लाल होने की समस्याएं और बुखार आदि की समस्या भी सामने आ रही है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password