MP Bus Strike 2021 : प्रदेश भर में शुक्रवार को थमेंगे बसों के पहिए, यात्रियों को करना पड़ सकता है परेशानियों का सामना

 

भोपाल। मध्यप्रदेश में शुक्रवार को बसों के MP Bus Strike 2021 पहिए थम जाएंगे। मध्य प्रदेश बस ऑनर एसोसिएशन के आह्वान पर बस ऑपरेटर 24 घंटे की सांकेतिक हड़ताल करने जा रहे हैं। किराए में बढ़ोतरी की मांग को लेकर ये सांकेतिक हड़ताल की जाएगी। दरअसल बस ऑपरेटर डीजल, टायर, स्पेयर पार्ट्स की कीमतों में बढ़ोतरी के बाद सरकार से लगातार किराया बढ़ाने की मांग कर रहे हैं।

आज तक कोई फैसला नहीं हुआ
18 सितंबर को किराया नियंत्रण बोर्ड की बैठक में 50 प्रतिशत किराया बढ़ाने की सहमति हुई, लेकिन आज तक कोई फैसला नहीं हुआ। बस ऑपरेटरों का कहना है कि किराया बढ़ाने की मांग को लेकर अभी सांकेतिक हड़ताल की जाएगी। यदि जल्द ही मांग पूरी नहीं हुई तो बस ऑपरेटर अनिश्चिकालीन हड़ताल करेंगे। मध्यप्रदेश बस ऑपरेटर एसोसिएशन ने अपनी मांगों को लेकर 26 और 27 फरवरी को दो दिन की स्वैच्छिक बस हड़ताल का ऐलान दो दिन पहले ही कर चुके है।

26 और 27 फरवरी को हड़ताल
बस ऑपरेटर एसोसिएशन द्वारा लगातार प्रशासन की ओर से ​की जा रही कार्रवाई विरोध किया है। बस संचालकों का कहना है कि सीधी बस हादसे के बाद प्रशासन अपनी गलती छुपाने के लिए बस संचालकों पर टूट पड़ा है। जबकि बस संचालक प्रदेश के राजस्व का मुख्य हिस्सा है और एकमात्र ऐसा व्यवसाय है जो सरकार को एडवांस टैक्स देकर अपना धंधा करता है। बस संचालकों का ​कहना है कि सभी बस संचालकों ने 26 और 27 फरवरी को हड़ताल पर रहने का फैसला किया है। गौरतलब है कि राजधानी भोपाल से प्रदेश के सभी क्षेत्रो के अलावा अंतरराज्यीय बसों का संचालन होता है। यहां से आईएसबीटी, पुतली घर, हलालपुर, नादरा बस स्टैंड से करीब 3 हजार बसें चलती है।

किराया वृद्धि को लेकर स्वैच्छिक बस हड़ताल
दो दिन की स्वैच्छिक बस हड़ताल को लेकर बस ऑपरेटर संचालकों ने कहा कि प्रमुख मांग किराया वृद्धि को लेकर है। मध्यप्रदेश बस ऑपरेटर एसोसिएशन के सदस्य दीपेश विजयवर्गीय ने बताया कि हमारी दो दिवसीय स्वैच्छिक हड़ताल है। हड़ताल के दौरान यदि कोई बस ऑपरेटर बस चलाता है तो उसको रोका नहीं जाएगा।

सुबह 5 बजे से बसें नहीं चलेंगी
प्रदेश में 26 फरवरी को सुबह 5 बजे से बसें नहीं चलेंगी। विजयवर्गीय ने बताया कि मध्यप्रदेश में 36 हजार बसें है। इनमें से 20 हजार बसें खड़ी हो जाएगी। हमारा उद्देश्य आम जनता की परेशान करना नहीं है। उन्हाेंने बताया कि डीजल के दाम में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। डीजल 60 रुपए से 90 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गया है, लेकिन किराए में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password