Mirabai Chanu: मीराबाई चानू ने जीता गोल्ड, कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए किया क्वालीफाई

Mirabai Chanu: मीराबाई चानू ने जीता गोल्ड, कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए किया क्वालीफाई

सिंगापुर। भारत की स्टार भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने शुक्रवार को यहां सिंगापुर भारोत्तोलन अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतकर राष्ट्रमंडल खेलों के लिये 55 किग्रा भार वर्ग में क्वालीफाई किया। पहली बार 55 किग्रा भार वर्ग में भाग ले रही चानू ने कुल 191 किग्रा (86 किग्रा और 105 किग्रा) भार उठाया।

उन्हें किसी तरह की चुनौती का सामना नहीं करना पड़ा और वह आसानी से पहले स्थान पर रही। इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि आस्ट्रेलिया की जेसिका सेवास्टेंको दूसरे स्थान पर रही जबकि उन्होंने कुल 167 किग्रा (77 किग्रा + 90 किग्रा) वजन उठाया, जो चानू से 24 किग्रा कम था। मलेशिया की एली कैसेंड्रा एंगलबर्ट 165 किग्रा (75 किग्रा + 90 किग्रा) के सर्वश्रेष्ठ प्रयास के साथ तीसरे स्थान पर रही।

टूर्नामेंट के पहले दिन भाग ले रहे अन्य तीन भारतीयों – संकेत सागर (55 किग्रा), ऋषिकांता सिंह (55 किग्रा) और बिंदयारानी देवी (59 किग्रा) ने भी राष्ट्रमंडल खेलों के लिये क्वालीफाई कर लिया है। दिसंबर में विश्व चैंपियनशिप से हटने वाली चानू की पिछले साल तोक्यो ओलंपिक में रजत पदक जीतने के ऐतिहासिक प्रदर्शन के बाद यह पहली प्रतिस्पर्धी प्रतियोगिता थी। चानू ने जीत के बाद कहा, ‘‘सात महीने की कड़ी ट्रेनिंग और इस खेल के प्रति मेरे लगाव की बदौलत मैं 55 किग्रा और 49 किग्रा में राष्ट्रमंडल खेल 2022 के लिये क्वालीफाई करने में सफल रही। ’’

चानू ने नयी स्नैच तकनीक पर काम करने के लिये विश्व चैम्पियनशिप से हटने का फैसला किया था और मुख्य कोच विजय शर्मा मणिपुरी भारोत्तोलक की स्नैच में प्रगति देखकर काफी खुश थे जिसे कभी उनकी कमजोरी माना जाता था। उन्होंने आसानी से स्नैच में 81 किग्रा, 84 किग्रा और 86 किग्रा के वजन उठाये। विजय शर्मा ने सिंगापुर से फोन पर कहा, ‘‘हम उसकी स्नैच तकनीक पर काम रहे थे। और मैं नतीजों से खुश हूं, उसने इन पिछले सात महीनों में स्नैच में काफी अच्छी प्रगति की है। ’’

इस 27 वर्षीय खिलाड़ी ने राष्ट्रमंडल रैंकिंग के आधार पर 49 किग्रा में राष्ट्रमंडल खेलों के लिये क्वालीफाई किया था लेकिन भारत की अधिक स्वर्ण पदक जीतने की संभावनाएं बढ़ाने के लिये चानू ने 55 किग्रा में भाग लेने का फैसला किया। वहीं अन्य भारोत्तोलकों में सागर ने पुरूषों की 55 किग्रा वजन वर्ग में स्वर्ण जीतने के साथ क्लीन एवं जर्क में और कुल वजन उठाकर नया राष्ट्रमंडल और राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाये। उन्होंने 256 किग्रा (113 किग्रा +143 किग्रा) का वजन उठाकर हमवतन ऋषिकांता को पीछे छोड़ा जिन्होंने 246 किग्रा (110 किग्रा +136 किग्रा ) के अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास से रजत पदक जीता। श्रीलंका के दिलांका इसुरू कुमारा ने 238 किग्रा वजन वर्ग से कांस्य पदक अपने नाम किया। राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिप की रजत पदक विजेता बिंदयारानी ने भारत को दिन का तीसरा स्वर्ण पदक दिलाया। उन्होंने महिलाओं की 59 किग्रा स्पर्धा में 196 किग्रा (85 किग्रा +111 किग्रा) का वजन उठाकर पीला तमगा जीता। इस स्पर्धा में केवल पांच भारोत्तोलक हिस्सा ले रही थीं। आस्ट्रेलिया के ब्रेन्ना कीन ने रजत और टोरी गालेगोस ने कांस्य पदक जीते। बिंदयारानी ने दिसंबर में राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिप में 55 किग्रा वजन वर्ग में हिस्सा लिया था। सिंगापुर भारोत्तोलन अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता बर्मिंघम में होने वाले 2022 राष्ट्रमंडल खेलों की क्वालीफाइंग प्रतियोगिता है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password