KUNOOR CHOPPER CRASH: क्या हुआ था हेलिकॉप्टर के साथ, रक्षामंत्री ने संसद को बताया पूरा घटनाक्रम

दिल्ली। भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत का कल तमिलनाड़ू के कुन्नूर में एक दुखद हैलिकॉप्टर दुर्घटना में निधन हो गया। इस हादसे को लेकर सरकार के आधिकारिक बयान की प्रतिक्षा की जा रही थी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में इसे लेकर आज बयान दिया।

राजनाथ सिंह ने कहा ‘बड़े भारी और दुखी मन से मैं 8 दिसंबर 2021 की दोपहर में हुई मिलिट्री हेलिकॉप्टर दुर्घटना, जिसमें भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ, उनकी पत्नी एवं 12 अन्य सवार थे, के बारे में बताने के लिए आप सब के बीच खड़ा हुआ हूं। जनरल विपिन रावत डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज वेलिंग्टन के स्टूडेंट ऑफिसर्स से इंटरेक्ट करने के लिए अपने एक शेड्यूल्ड विजिट पर थे।

क्या हुआ था हेलिकॉप्टर के साथ ?
एयरफोर्स के एमआई-17 V5 हेलिकॉप्टर ने कल 11 बजकर 48 मिनट पर सुलूर एयरबेस से उड़ान भरी। इसे 12 बजकर 15 मिनट पर वेलिंग्टन में लैंड करना था। सुलूर एयरबेस के एयर ट्रैफिक कंट्रोल का लगभग 12 बजकर 8 मिनट पर हेलिकॉप्टर से संपर्क टूट गया। बाद में कुन्नूर के पास जंगल में कुछ स्थानीय लोगों ने आग लगी हुई देखी। जब लोग भागकर वहां पहुंचे तो उन्होंने मिलिट्री हेलिकॉप्टर के अवशेषों को आग की लपटों से घिरा देखा। प्रशासन से एक बचाव दल उस जगह पर पहुंचा उन्होंने क्रैश साइट से सर्वाइवर्स को रिकवर करने का प्रयास किया। उस जगह से जितने भी लोगों को निकाला जा सका, उन्हें जल्द वेलिंग्टन के मिलिट्री अस्पताल पहुंचाया गया।

ट्राइ सर्विस इन्क्वायरी के आदेश
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद को बताया कि इस दुर्घटना के संबंध में इंडियन एयरफोर्स ने एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह की अध्यक्षता में एक ट्राइ सर्विस इन्क्वायरी के आदेश दिए हैं। जांच टीम के ऑफिसर्स ने कल ही वेलिंग्टन पहुंचकर अपना काम शुरू कर दिया है।

फुल मिलिट्री ऑनर के साथ अंतिम संस्कार
चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत का अंतिम संस्कार फुल मिलिट्री ऑनर के साथ किया जाएगा और बाकी मिलिट्री पर्सनल का अंतिम संस्कार मिलिट्री ऑनर्स के साथ होगा। रक्षामंत्री ने संसद में कहा अध्यक्ष महोदय, मैं देश की ओर से सभी दिवंगत लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं और उनके परिवारजनों के प्रति संवेदना भी व्यक्त करता हूं।’

जवान जिन्हें देश ने खो दिया

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत
रक्षा सलाहकार ब्रिगेडियर लखविंदर सिंह लिद्दर
स्टाफ ऑफिसर लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह
विंग कमांडर पृथ्वी सिंह चौहान
स्क्वॉड्रन लीडर कुलदीप सिंह
जूनियर वारंट ऑफिसर दास
जूनियर वारंट ऑफिसर अरक्कल प्रदीप
हवलदार सतपाल राय
लांस नायक गुरसेवक सिंह
नायक जितेंद्र कुमार
लांस नायक विवेक कुमार
लांस नायक बी. साई तेजा

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का मौत से संघर्ष जारी
इस हैलिकॉप्टर हादसे में सिर्फ ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ही जिंदा बच सके हैं। वो फिलहाल वेलिंग्टन के मिल्ट्री अस्पताल में लाइफ सपोर्ट पर हैं। उन्हें बचाने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password