Karni Sena : माफी से नहीं चलेगा काम, इस्तीफे पर अड़ी करणी सेना

भोपाल। विवादित बयानों Karni Sena  को लेकर फसे मंत्री बिसाहूलाल सिंह की मुश्किलें कम होेने का नाम नहीं ले रही हैं। माफी मांगने के बावजूद उनके इस्तीफे की मांग लगातार की जा रही है। राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना मध्यप्रदेश द्वारा लगातार यह मांग की जा रही है। इसे लेकर सोमवार को करोंद और खजूरीकलां में मंत्री का पुतला भी फूंका गया। पदाधिकारियों की मानें तो माफी नहीं इस्तीफा चाहिए।

ये था मामला —
बता दें मंत्री साहू द्वारा अनूपपुर की एक सभा में सवर्ण महिलाओं पर एक विवादित बयान दिया गया था। इसके बाद प्रदेशभर में राजपूत समाज द्वारा उनका विरोध शुरू हो गया है। हालांकि अपने इस विवादित बयान को लेकर 26 नवंबर को मंत्री लिखित माफी मांग चुके हैं। इसके बाद 28 नवंबर रविवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मंत्री इस तरह के विवादित बयान न देने को लेकर चेतावनी भी दी थी। BJP प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और मंत्री साहू ने भी वीडियो जारी कर राजपूत समाज से माफी मांगी थी।

प्रदेशभर में प्रदर्शन करेंगे, बढ़ाई गई सुरक्षा —

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना ने सोमवार दोपहर 12 बजे करोंद में मंत्री का पुतला जलाकर जमकर नारेबाजी की। जिलाध्यक्ष अजीत सिंह के अनुसार उन्हें मंत्री साहू का इस्तीफा चाहिए माफी नहीं। ऐसा न करने पर
श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना प्रदेश सचिव अजीतसिंह डोडिया के अनुसार इस्तीफा नहीं दिए जाने पर प्रदेशभर में प्रदर्शन किया जाएगा।

इस बयान से मचा था बवाल —

मंत्री साहू ने अनूपपुर की एक सभा में अपने भाषण में कहा था- जितने बड़े-बड़े लोग हैं, वो अपने घर की औरतों को कोठरी में बंद करके रखते हैं। बाहर निकलने ही नहीं देते। जितने धान काटने वाले, आंगन लीपने वाले, गोबर फेंकने का काम हमारे गांव की महिलाएं करती हैं। उन्होंने कहा था कि जब महिलाओं और पुरुषों का बराबर अधिकार है तो दोनों को बराबरी से काम भी करना चाहिए। सब अपने अधिकारों को पहचानों और पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करो। बड़े लोगों की महिला बाहर न निकले तो पकड़-पकड़कर उन्हें बाहर निकालों, तभी तो महिलाएं आगे बढ़ेंगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password