बेहद खतरनाक साबित हो रहे 5 मिनट में कर्ज देने वाले इंस्टेंट लोन ऐप, जानें कैसे करते हैं फ्रॉड

भोपाल: अगर आप भी प्ले स्टोर से इंस्टेंट लोन लेने वाली ऐप पर भरोसा कर रहे हैं और आपने इंस्टेंट लोन ऐप डाउनलोड किया है तो उसे एक बार इसके बारे में जरुर जान लें, क्योंकि तेलंगाना में पिछले दिनों इंस्टेंट लोन ऐप से लोन देने वाली कंपनियों के खिलाफ लगातार मामले दर्ज किए जा रहे हैं। अब तक अकेले हैदराबाद पुलिस इस तरह के 27 मामले दर्ज कर चुकी है। जिसमें से अलग-अलग इलाकों से करीब 100 केस आ चुके हैं।

पिछले हफ्ते हुई धरपकड़ में तीन चीनी मूल के लोगों समेत करीब 30 लोग गिरफ्तार हुए हैं। मामला सामने आने के बाद हैदराबाद, साइबराबाद और रचकोंडा के पुलिस कमिश्नर ने गूगल से संपर्क करके इस तरह के करीब 200 ऐप्स को ब्लॉक करने को कहा है।

कैसे काम करते हैं ये इंस्टेंट पर्सनल लोन ऐप

इंस्टेंट पर्सनल लोन ऐप चलाने वाले रैकेट मोबाइल ऐप शामिल हैं। इन्हें आप आसानी से गूगल प्ले स्टोर यौ फिर एपल के ऐप स्टोर से डाउनलोग कर सकते हैं। ये ऐप लोन देते समय व्यक्ति से 35% ब्याज लेते हैं। हालांकि इन ऐप्स का कोभी भी बैंकिग या नॉन-बैंकिग फाइनेंशियल इस्टिट्यूशन से कोई संबंध नहीं है।

ऐप डाउनलोड करते ही मांगी जाती है पर्सनल डीटेल

इस तरह की लोन ऐप को डाउनलोड करते ही सबसे पहले आपको अपनी पर्सनल डीटेस, तीन महीने की बैंक स्टेटमेंट, आधार कार्ड की कॉपी औप पैन कार्ड की कॉपी ऐप पर अपलोग करनी होती है। जैसे ही आप इस प्रोसेस को कंप्लिट करते हैं वैसे ही आपको एक हजार से 50 हजार तक का लोन मिल सकता है। ये लोन सात दिन के कुछ महीनों तक के लिए होता है।

इसके बाद आपसे ब्याज वसूला जाता है। ऐप आपसे महीने, हफ्ते या फिर दिन के हिसाब से ब्याज वसूलते हैं। इसके लिए इन्होंने गुड़गांव, हैदराबाद जैसे शहरों में कॉल सेंटर बना रखे हैं। जहां से टेली-कॉलर और रिकवरी एजेंट उधार लेने वालों से बात करते हैं।

इस लोन पर हाई इंट्रेस्ट रेट के साथ कई तरह की फीस लगती हैं। जैसे अगर कोई 5 हजार का लोन लेता है तो ऐप कंपनी 1,180 रुपए तो सिर्फ प्रोसेसिंग फीस और GST के नाम पर ले लेती है। यानी, लोन आपने 5 हजार का लिया और आपको मिलेंगे 3,820 रुपए।

फ्रॉड में शामिल ये ऐप

तेलंगाना पुलिस के मुताबिक, इस तरह के इंस्टेंट लोन ऐप के जरिए जो ऐप ठगी कर रहे हैं उनमें कैश मामा, धनधनाधन लोन, कैश अप, लोन जोन, कैश बस, मेरा लोन, हे फिश, मंकी कैश, कैश एलीफेंट, वाटर एलीफेंट, क्विक कैश, लोन जोन, लोन क्लाउड, किश्त, इंस्टारुपए लोन, फ्लैश रुपए-कैश लोन, मास्टरमेल्नो कैशरेन, गेटरुपे, ईपे लोन, पांडा आईक्रेडिट, ईजी लोन, रूपे क्लिक, ओकैश, कैशमैप, स्नैपिट, रैपिड रुपे, रेडीकैश, लोन बाजार, लोनब्रो, कैश पोस्ट, रूपीगो, कैश पोर्ट, रश, प्रो फॉर्चून बैग, रूपीलोन, रोबोकैश, कैशटीएम, उधार लोन, क्रेडिट फ्री जैसे ऐप इसमें शामिल थे। इनमें से कुछ को ऑनियन क्रेडिट और क्रेडफॉक्स टेक्नोलॉजिस नाम की कंपनियां चला रही थीं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password