इंदौर शहर के इन छात्रों ने जिस डिवाइस का आविष्कार किया है.

छात्रों का अनोखा कारनामा..! बनाई ऐसी डिवाइस कि सब हुए हैरान, इंदौर का मामला

indore news
Share This

MP News: अगर मेहनत ईमानदारी से की जाए तो हर एक सपने को साकार किया जा सकता है. सपने कभी भी छोटे या बड़े नहीं होते है. बल्कि मायने ये रखता है कि उस सपने को साकार करने के लिए आप मेहनत पूरी ईमानदारी से कर रहे है या नहीं? 

हमेशा यह देखा भी गया है कि छोटे सपने ही बड़ी उठान भरते हैं. अगर आपको भी यकीन ना हो तो इंदौर शहर के इन छात्रों ने जिस डिवाइस का आविष्कार किया है, उसके बारे में एक बार अवश्य जान लें.

नींद लगते ही बजने लगेगा अलार्म

इस डिवाइस के आविष्कार से अब रात के समय अचानक नींद लग जाने से होने वाले एक्सीडेंट से बचा जा सकता है. यह दावा इंदौर जिले के एक कॉलेज छात्रों ने किया है.

यह भी पढ़ें: Happiest State in India: भारत का सबसे ‘खुशहाल’ राज्य कौन सा है? क्यों है ये सबसे अलग, जानें

उनका कहना है कि इस डिवाइस के जरिये सड़क दुर्घटनाओं से बचा जा सके. इस उद्देश्य से एंटी स्लीप अलार्म मॉडल तैयार किया गया है. जो वाहन चालकों के लिए कारगर साबित हो सकता है.

5 छात्रों ने मिलकर बनाया अनोखी डिवाइस

इंदौर के श्री गोविंदराम सेकसरिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंस कॉलेज में पढ़ने वाले 5 होनहार छात्रों ने इस अनोखी डिवाइस को तैयार किया है. 

इस डिवाइस की सबसे खास बात ये है कि ये वाहन चालक की आंख लगते ही उसे अलार्म के जरिये जगा देगी. जिससे रात के समय होने वाले एक्सीडेंट से बचा जा सकता है.

छात्रों का तो यह भी कहना है कि अगर कोई वाहन चालक सिर्फ 5 सेकंड के लिए अपनी आंखें यदि बंद करता है. तो अलार्म ऑटोमेटिक सेंसर के माध्यम से बजने लगता है.

यह भी पढ़ें: चेतावनी! चारधाम हेली सेवा के नाम पर चल रही कई फ़र्जी वेबसाइट, उत्तराखंड STF ने की बड़ी कार्रवाई

अलार्म बजने से वाहन चालक तुरंत जाग जायेगा-

इससे साफ़ समझा जा सकता है कि अगर वाहन चलाते समय झपकी लगती है. तो इस डिवाइस से अलार्म बजेगा और चालक तुरंत जाग जायेगा. जिससे रात के समय होने वाले एक्सीडेंट से बचा जा सकता है.

इस डिवाइस को बनाने वाले छात्र का कहना है कि उसके गाँव में कुछ दिन पहले सड़क हादसे में बस पलट गई थी. जिसमें कई लोगों की मौत हो गई थी. 

इस हादसे से ही उस छात्र को ऐसी डिवाइस बनाने का आईडिया आया था. जिसके बाद उसने अपने कॉलेज दोस्तों के साथ मिलकर सिर्फ 3 सप्ताह में ही ये डिवाइस बना दी. 

उनका कहना था कि कॉलेज द्वारा दिया हुआ ये एक प्रोजेक्ट भी था. जिसके तहत छात्रों ने एक नया आविष्कार करके दिखा दिया. अब इस आविष्कार की चर्चा काफी जोरों पर है.

यह भी पढ़ें: MP Gwalior News: “मीरा” ने दिया तीन शावकों को जन्म, ग्वालियर में बढ़ा बाघों का कुनबा

सीएम से मिलने की उम्मीद-

फिलहाल, इस डिवाइस पर अभी और काम किये जाने की जरूरत है. क्योंकि छात्रों का आगे कहना था कि लगातार डिवाइस से जुड़ा हुआ चश्मा कोई नहीं लगा सकता हैं.

इसके लिए इस डिवाइस को फोर व्हीलर के लेंस, ग्लास या फिर स्टेरिंग में फिट कर सकते है. अब सभी छात्र अपने इस सपने को साकार करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात करना चाहते है.

अब मध्य प्रदेश के इन छात्रों का सपना साकार होने से वाहन चालकों को बड़ा फायदा हो सकता है. यानी की एक छोटा सा सपना बड़ी उठान भर सकता है.

ये भी पढ़ें: 

Jabalpur News: 8 महीने की बच्ची के साथ पति-पत्नी ने की आत्महत्या, जांच शुरू

MP Job News: युवाओं के लिए अच्छी खबर, सरकार ने जारी किया आदेश

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password