Ind vs Aus Test Series: भारत, ऑस्ट्रेलिया ड्रा टेस्ट के बाद डब्ल्यूटीसी तालिका में शीर्ष दो स्थानों पर बरकरार

सिडनी, 11 जनवरी (भाषा) ऑस्ट्रेलिया और भारत सोमवार को यहां तीसरे टेस्ट मैच (Ind vs Aus Test Series) को ड्रा खेलने के बाद विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के शीर्ष दो स्थानों पर बने हुए है।

भारतीय बल्लेबाजों (Indian Batsman) ने चौथी पारी में धैर्य और जज्बे की शानदार मिसाल पेश करते हुए ऑस्ट्रेलिया (Australia) को जीत से दूर रखा जिससे श्रृंखला अभी 1-1 से बराबर है। श्रृंखला का चौथा और आखिरी टेस्ट ब्रिसबेन में 15 जनवरी से खेला जाना है।

भारतीय टीम इस मैच में शानदार प्रदर्शन के कारण डब्ल्यूटीसी अंक तालिका में तीसरे स्थान पर काबिज न्यूजीलैंड से थोड़े अंतर से आगे है।

आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ सिडनी में अविश्वसनीय रूप से प्रतिस्पर्धी मैच के बाद दोनों टीमें आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप तालिका में शीर्ष दो स्थानों पर बनीं हुई हैं। भारत और न्यूजीलैंड के बीच 0.2 प्रतिशत का अंतर है।’’

इससे पहले वेस्टइंडीज और पाकिस्तान पर प्रभावशाली जीत के बाद न्यूजीलैंड की टीम आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहली बार नंबर एक पर पहुंची थी।

सिडनी टेस्ट (Sydney Test) के ड्रा होने पर भारत और ऑस्ट्रेलिया को 10-10 अंकों से संतोष करना पड़ा। इस 10 अंक से भारतीय टीम डब्ल्यूटीसी तालिका में 400 अंक का आंकड़ा छूने वाली पहली टीम बनी। भारत, तालिका में हालांकि ऑस्ट्रेलिया के बाद दूसरे स्थान पर हैं क्योंकि अब इसके स्थानों का आकलन जीतने के प्रतिशत के आधार पर होता है।’’

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) (97) और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) (77) के पवेलियन लौटने के बाद भारतीय टीम मुश्किल में फंस गयी थी लेकिन हनुमा विहारी (161 गेंद में 23 रन) और रविचंद्रन अश्विन (128 गेंद में 39 रन) ने पांचवें दिन तीसरे सत्र में विकेट नहीं गिरने दिया और आस्ट्रेलिया को जीत से वंचित किया।

मांसपेशियों में खिंचाव के बाद भी विहारी ने अश्विन के साथ छठे विकेट के लिए 62 रन की अटूट साझेदारी की जो 42 ओवर से ज्यादा देर तक चली। जीत के लिए 407 रन का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने पांच विकेट पर 334 रन बनाकर मैच ड्रा कराया।

भाषा आनन्द मोना

मोना

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password