Indian Navy tableau: 26 जनवरी की परेड में नौसेना की झांकी में दिखेगा 1946 का विद्रोह, जानिए क्या है 1946 नौसेना विद्रोह  

Indian Navy tableau: 26 जनवरी की परेड में नौसेना की झांकी में दिखेगा 1946 का विद्रोह, जानिए क्या है 1946 नौसेना विद्रोह  

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस परेड में इस वर्ष भारतीय नौसेना की झांकी में 1946 में हुए नौसेना का विद्रोह दर्शाया जाएगा Indian Navy tableau जिसने देश के स्वतंत्रता आंदोलन में योगदान दिया था और इसके मार्चिंग दस्ते का नेतृत्व महिला अधिकारी करेंगी। झांकी में नौसेना की थीम ‘तैयार, विश्वसनीय और एकजुट’ को भी प्रदर्शित किया जाएगा।

 लेफ्टिनेंट कमांडर आंचल शर्मा करेंगी नेतृत्व

बयान में बताया गया कि इसका नेतृत्व लेफ्टिनेंट कमांडर आंचल शर्मा करेंगी जो भारतीय नौसेना के एयर स्क्वाड्रन (आईएनएएस) 314 में पदस्थापित हैं और निरीक्षक अधिकारी हैं।  शर्मा जून 2016 में नौसेना में अधिकारी बनी थीं। उन्होंने कहा कि दल का उत्साह एवं ऊर्जा अतुलनीय है और गणतंत्र दिवस परेड में इसका नेतृत्व करना सम्मान की बात है। नौसेना ने एक बयान जारी कर कहा कि नौसेना के दल में 96 पुरुष, तीन प्लाटून कमांडर और एक दल कमांडर होगा।

क्या है 1946 में हुआ नौसेना का विद्रोह

इसे भारतीय इतिहास में ‘रॉयल इंडियन नेवी म्यूटिनी’ या ‘बॉम्बे म्यूटिनी’ के नाम से भी जाना जाता है। इतिहासकारों का मानना है कि 1946 में रॉयल नेवी के 200 ठिकानों और जहाज़ों पर हुए विद्रोह ने ब्रिटेन की सरकार को भारत जल्द छोड़ने पर मजबूर कर दिया था।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password