IND vs ENG: इंग्लैंड के पांच विकेट पर 119 रन, कुल बढ़त 360 रन

चेन्नई। आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने तीन विकेट चटकाए लेकिन इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन आज दूसरी पारी में पांच विकेट पर 119 रन बनाकर कुल बढ़त को 360 रन तक पहुंचाकर अपनी स्थिति मजबूत कर ली। अश्विन (49 रन पर तीन विकेट) की अगुआई में भारत ने नियमित अंतराल पर विकेट चटकाए लेकिन इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (32 गेंद में 40 रन) ने एक और छोटी लेकिन आकर्षक पारी खेलकर मेहमान टीम का पलड़ा भारी रखा। चाय के विश्राम के समय ओली पोप 18 जबकि जोस बटलर 14 रन बनाकर खेल रहे थे। इंग्लैंड ने दूसरे सत्र में 25 ओवर में चार विकेट गंवाकर 118 रन जोड़े।

यह रही पूरी खबर

इंग्लैंड के पहली पारी के 578 रन के जवाब में भारत 95.5 ओवर में 337 रन पर सिमट गया लेकिन जो रूट ने 241 रन की बढ़त के बावजूद मेजबान टीम को फालोआन नहीं देने का फैसला किया। भारत की ओर से वाशिंगटन सुंदर 85 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि कल ऋषभ पंत ने 91 और चेतेश्वर पुजारा ने 73 रन की पारी खेली थी। इंग्लैंड की ओर से डॉम बेस सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 77 रन देकर चार विकेट चटकाए। जेम्स एंडरसन (46 रन पर दो विकेट), जोफ्रा आर्चर (75 रन पर दो विकेट) और जैक लीच (105 रन पर दो विकेट) ने भी दो-दो विकेट हासिल किए। दूसरी पारी में गेंदबाजी का आगाज करने वाले अश्विन ने तेजी से टर्न और उछाल लेती पहली ही गेंद पर रोरी बर्न्स को पहली स्लिप में अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच कराया।

वह 114 साल बाद टेस्ट पारी की पहली गेंद पर विकेट चटकाने वाले स्पिनर बने। भारत ने दूसरे छोर से बायें हाथ के स्पिनर शाहबाज नदीम को गेंद थमाई। दोनों स्पिनरों ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों को लय में नहीं खेलने दिया लेकिन पहले 10 ओवर में तीन नोबॉल फेंकी। अश्विन ने दूसरे सलामी बल्लेबाज डॉम सिब्ली (16) को लेग स्लिप में चेतेश्वर पुजारा के हाथों कैच कराके भारत को दूसरी सफलता दिलाई। पहली पारी में दोहरा शतक जड़ने वाले रूट ने आते ही नदीम पर दो चौके मारे और फिर अश्विन के ओवर में भी दो चौके जड़े। इशांत ने इसके बाद डैन लॉरेंस (18) को सीधी गेंद पर पगबाधा किया। लॉरेंस ने इस फैसले के खिलाफ डीआरएस का सहारा लिया लेकिन तीसरे अंपायर का फैसला भी गेंदबाज के पक्ष में रहा।

किसने कितने रन बनाए

इशांत इसके साथ टेस्ट  क्रिकेट में कपिल देव (434) और जहीर खान (311) के बाद 300 विकेट हासिल करने वाले सिर्फ तीसरे भारतीय तेज गेंदबाज बने। वह यह उपलब्धि हासिल करने वाले छठे भारतीय गेंदबाज हैं। अश्विन ने पहली पारी में अर्धशतक जड़ने वाले बेन स्टोक्स (07) को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच कराके इंग्लैंड का स्कोर चार विकेट पर 71 रन किया लेकिन इससे पहले टीम की कुल बढ़त 300 रन के पार पहुंच गई थी। कप्तान विराट कोहली ने 22वें ओवर में जसप्रीत बुमराह को पारी में पहली बार गेंद थमाई और उन्होंने अपने दूसरे ओवर में ही शानदार लय में दिख रहे रूट को पगबाधा कर दिया जिन्होंने 32 गेंद में सात चौकों की मदद से 40 रन बनाए। जोस बटलर ने बुमराह पर चौके के साथ खाता खोला और फिर नदीम पर पारी का पहला छक्का जड़ा।

इससे पहले सुबह भारत ने दिन की शुरुआत छह विकेट पर 257 रन से ही। स्थानीय खिलाड़ी वाशिंगटन 33 रन से आगे खेलने उतरे लेकिन पहले टेस्ट शतक तक नहीं पहुंच पाए। उन्होंने 138 गेंद की अपनी पारी में 12 चौके और दो छक्के मारे तथा अश्विन (31) के साथ सातवें विकेट के लिए 80 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। वाशिंगटन उस समय क्रीज पर अकेले रह गए जब एंडरसन की गेंद पर स्टोक्स ने स्लिप में शानदार कैच लपकते हुए भारत की पारी का अंत किया। रविवार को पंत की आक्रामक बल्लेबाजी के सामने काफी रन लुटाने वाले लीच ने वाशिंगटन और अश्विन की साझेदारी को तोड़कर इंग्लैंड को दिन की पहली सफलता दिलाई। उनकी उछाल लेती गेंद पर विकेटकीपर बटलर ने अश्विन का कैच लपका। लीच ने इसके बाद नदीम (00) को स्लिप में स्टोक्स के हाथों कैच कराया जबकि एंडरसन ने इशांत शर्मा (04) को पवेलियन भेजा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password