Amritpal Singh Arrested: 'नहीं चाहता था खून-खराबा', अमृतपाल की गिरफ्तारी पर बोली सीएम मान

Amritpal Singh Arrested: ‘नहीं चाहता था खून-खराबा’, अमृतपाल की गिरफ्तारी पर बोली सीएम मान

bhagwant mann on Amritpal Arrest
Share This

Amritpal Singh Arrested: पिछले कई दिनों से फरार चल रहे भगोड़े अमृतपाल सिंह को पंजाब पुलिस ने आखिरकार रविवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया। मोगा गुरूद्वारे से वारिस पंजाब दे चीफ को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले कहा जा रहा था कि अमृतपाल ने सरेंडर कर दिया है लेकिन बाद में पंजाब पुलिस ने बताया कि खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल को गिरफ्तार किया गया। मामले में ताजा अपडेट यह है कि अमृतपाल को लेकर पंजाब पुलिस डिब्रूगढ़ जेल पहुंच चुकी है।

नहीं चाहते थे कि कोई खून खराबा हो या गोलीबारी हो

इसी बीच 18 मार्च से फरार चल रहे अमृतपाल सिंह की गिरफ्तारी के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान का बयान सामने आया है। सीएम मान का कहना है कि वह खून-खराबा नहीं चाहते थे। उन्होंने कहा, कुछ लोग लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति खराब करने की कोशिश कर रहे थे, हमने उनके खिलाफ एक्शन लिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम चाहते तो उस दिन भी पकड़ सकते थे, नहीं चाहते थे कि कोई खून खराबा हो या गोलीबारी हो।

यह भी पढ़ें- CBSE Board Result 2023: इस दिन आएगा CBSE 10वीं का रिजल्ट, ऐसे कर पाएंगे चेक

एजेंडा पॉलिटिक्स नहीं करते

अमृतपाल की गिरफ्तारी का श्रेय लेते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा, “18 मार्च से अमृतपाल को ढूंढ़ रहे थे। पुलिस ने बड़ी संयम के साथ काम किया और सूचना मिलते ही एक्शन लिया। अमृतपाल 35 दिन से फरार था। इस दौरान पंजाब में अमन-शांति कायम रही। हम एजेंडा पॉलिटिक्स नहीं करते हैं। पंजाब के भाईचारे पर हम आंच नहीं आने देंगे। “

वहीं आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल की गिरफ्तारी के बाद सीएम मान की तारीफ की है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि भगवंत मान ने इस मिशन को परिपक्वता और साहस से पूरा किया।

यह भी पढ़े: Kedarnath Yatra 2023: केदारनाथ में भारी बर्फबारी, रोका गया श्रद्धालुओं का पंजीकरण

केजरीवाल ने कहा, “पंजाब के अमन चैन और सुरक्षा के लिए हम वचनबध है। इसके लिए कठोर निर्णय लेने को भी हम तैयार हैं। सीएम भगवंत मान साहिब ने इस मिशन को परिपक्वता और साहस से पूरा किया। बिना किसी रक्तपात और गोली चलाये पंजाब पुलिस ने कामयाबी हासिल की। इस दौरान शांति बनाये रखने और पंजाब सरकार का साथ देने के लिए जनता का बहुत बहुत शुक्रिया। “

बता दें कि इससे पहले अमृतपाल के बेहद करीबी पप्पलप्रीत को पंजाब पुलिस ने अमृतसर से गिरफ्तार कर लिया था। गिरफ्तारी के बाद पुलिस को दिए बयान में पप्पलप्रीत ने बताया था कि अमृतपाल आत्मसमर्पण करेगा या नहीं, ये मुझे नहीं पता है। इसके साथ ही उसने बताया था कि 28 मार्च की रात के बाद हम दोनों नहीं मिले है। हालांकि पप्पलप्रीत की गिरफ्तारी के बाद माना जा रहा था कि अमृतपाल की भी बहुत जल्द गिरफ्तारी हो सकती है।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password