Colours In Puja : रंगों से करें प्रभु को खुश, जानिए किस देवता को है कौन सा फूल पसंद

नई दिल्ली। सावन भादौ का महीना Dharam News भगवान की भक्ति के लिए समर्पित है। शिवजी की आराधना के बाद श्रीकृष्ण और गणपति की भक्ति शुरू हो चुकी है। ऐसे में लोग अलग—अलग तरीके से ईश्वर को प्रसन्न करने में लगे हैं। क्या आप जानते हैं सभी देवी—देवताओं को अलग—अलग रंगों के माध्यम से भी खुश किया जा सकता है। धर्म में हर शुभ काम, पूजा-पाठ में फूलों का उपयोग होता है। ऐसे में किस देवता को कौन सा फूल पसंद है। आइए हम आपको बातते हैं।

भगवान विष्णु ​को प्रिय है वैजयंती
भगवान विष्‍णु को कमल, मौलसिरी, जूही, कदम्ब, केवड़ा, चमेली, अशोक, मालती, वासंती, चंपा, वैजयंती फूल बहुत पसंद हैं। इसके अलावा तुलसी दल अनिवार्य रूप से चढ़ाना चाहिए।

भोले बाबा को सफेद रंग और धतूरा

भगवान शिव को नशीले और विष वाले पौधे और फूल प्रिय हैं। इसलिए इन्हें धतूरे के फूल, हरश्रृंगार, नागकेसर के सफेद फूल, सूखे कमल गट्टे, कनेर, कुसुम, आक, कुश आदि के फूल चढ़ाए जाते हैं। केवड़े का फूल और तुलसी चढ़ाना वर्जित है।

देवी लक्ष्मी को पसंद है लाल
कमल का पुष्प धन की देवी मां लक्ष्मी का सबसे अधिक पसंद है। इसके अलावा उन्हें लाल फूल, लाल गुलाब भी उन्हें बहुत पसंद हैं।

भगवान गणेश को पसंद है हरा रंग और दूर्बा
गणपति जी हरा रंग पसंद है। इसी के साथ उन्हें दुर्बा सबसे ज्‍यादा प्रिय है। फूलों की बात करें तो इन्‍हें सभी फूल पसंद हैं। इन्‍हें भी तुलसी दल कभी नहीं चढ़ाना चाहिए।

सूर्य देव को पसंद ये फूल
सूर्य देव की पूजा करते समय उन्‍हें कनेर, कमल, चंपा, पलाश, आक, अशोक आदि के फूल चढ़ाए जाते हैं।

भगवान श्री कृष्ण को पसंद है पीला रंग
भगवान श्री कृष्‍ण को कुमुद, करवरी, चणक, मालती, पलाश और वनमाला के फूल चढ़ाए जाते हैं.

देवी दुर्गा को लाल रंग है पसंद
शेर की सवारी करने वाली मां दुर्गा को लाल रंग बेहद पसंद हैं। इसलिए उन्हें हमेशा लाल गुलाब या लाल गुडहल का फूल चढ़ाया जाता है।

देवी सरस्वती को रिझाएं सफेद रंग
विद्या की देवी मां सरस्वती का प्रिय रंग सफेद है। इ​सलिए उन्हें सफेद या पीले रंग के फूल चढ़ाए जाते हैं। इसलिए बसंत पंचमी पर पीले कपड़े पहने जाते हैं।

(नोट: इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारी और मान्यताओं पर आधारित हैं। बंसल न्यूज इनकी पुष्टि नहीं करता है।)

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password