Coronavirus New Variant: दोगुनी हो गई है कोरोना की रफ्तार, जानें कब तक रहेगा दूसरी लहर का कहर? क्या है विशेषज्ञों का कहना -

Coronavirus New Variant: दोगुनी हो गई है कोरोना की रफ्तार, जानें कब तक रहेगा दूसरी लहर का कहर? क्या है विशेषज्ञों का कहना

नई दिल्ली: कोरोना के मौजूदा हालात बहुत ही भयावह हैं, पिछले 24 घंटे में देशभर से 2 लाख 73 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए हैं, वहीं इस दौरान 1619 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले साल की तुलना में इस साल का वायरस ज्यादा खतरनाक साबित हो रहा है। अब तक 10 राज्यों में 78 फीसदी से ज्यादा नए केस सामने आ चुके हैं। लेकिन अब सवाल ये है कि आखिर कोरोना के कहर से लोगों को कब निजात मिलेगा और एक्सपर्ट्स का इस बारे में क्या कहना है-

दरअसल, इस बारे में एक्सपर्ट्स की अलग-अलग राय है। निजी न्यूज वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक सेंटर फोर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी के निदेशक डॉक्टर राकेश मिश्रा का कहना है कि अगले तीन हफ्ते भारत के लिए बेहद जरूरी है। इस दौरान लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना होगा।

वहीं समाचार एजेंसी ANI से बातचीत में डॉक्टर मिश्रा का कहना है कि अगले तीन हफ्ते भारत के लिए बहुत अहम हैं। इस दौरान लोगों को सावधानियां बरतनी होगी। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि अगर अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन सिलेंडर और वैक्सीन की कमी जारी रहती है तो देश में विनाशकारी स्थिति उत्पन्न हो जाएगी।

संक्रमण की दूसरी लहर का आना तय था

डॉ. मिश्रा ने आगे कहा कि देशभर में कोरोना की दूसरी लहर आना ही था। आगे उन्होंने कहा कि ‘पिछले कुछ महीनों में कई मेडिकल बुद्धिजीवियों ने कहा है कि वायरस और इसका प्रभाव फिलहाल कम नहीं हुआ और इसका पूरी तरह से सफाया भी नहीं हुआ है। साथ ही उनका कहना है कि कोविड -19 जैसे संक्रमणों में ये काफी सामान्य है कि वायरस की दूसरी लहर आएगी। भारत में कोरोना का नया वेरिएंट आ गया है, जो कि काफी तेजी से फैल रहा है।

लोगों की लापरवाही से बढ़ा कोरोना

डॉ. मिश्रा ने कहा कि कोरोना के मामले हर दिन तेज़ी से बढ़ने का एक कारण लोगों की लापरवाही भी है। क्योंकि लोगों ने मास्क लगाना छोड़ दिया है। उन्होंने कहा, ‘महामारी को हराने के लिए टीका एक बहुत ही महत्वपूर्ण हथियार है, लेकिन लोगों को अभी भी कोरोना के दिशानिर्देशों का पालन करना होगा, क्योंकि वायरस उन लोगों पर भी हमला कर रहा है जो टीका ले चुके हैं। ये वायरस हवा के माध्यम से फैल सकता है। ये एक बंद क्षेत्र में 20 फीट तक बढ़ सकता है, मास्क लोगों को 80 से 90 प्रतिशत सुरक्षित रख सकता है।’

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password