कोरोना वायरस का खतरा कम नहीं हुआ है : येदियुरप्पा

बेंगलुरु, 30 दिसम्बर (भाषा) कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा ने बुधवार को कहा कि कोरोना वायरस का खतरा अभी कम नहीं हुआ है और महामारी को लेकर जरा सी भी लापरवाही नहीं की जानी चाहिये। उन्होंने कहा कि अभी सुरक्षा दिशा-निर्देशों में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

उन्होंने लोगों से दिशा-निर्देशों का पालन करने और सावधानी बरतने की अपील की। उन्होंने ब्रिटेन से लौटने वाले ऐसे लोगों से जरूरी स्वास्थ्य जांच कराने का अनुरोध किया जिनकी अभी तक जांच नहीं हुई है ताकि इंग्लैंड में मिले कोरोना वायरस के नए प्रकार को देश में फैलने से रोका जा सके।

येदियुरप्पा ने कहा, ‘‘प्रिय जनता, कोरोना वायरस का खतरा अभी भी कम नहीं हुआ है। ऐसे में जबकि हम नए साल में प्रवेश करने वाले हैं महामारी के प्रति थोड़ी सी भी लापरवाही नहीं की जा सकती है।’’

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘सरकार के दिशा-निर्देशों और नियमों का पालन करें और सभी आवश्यक एहतियाती उपाय करके सुरक्षित रहें और सहयोग करें।’’

मुख्यमंत्री ने नववर्ष के मद्देनजर यह अपील की है। सरकार ने नये साल की पार्टियों, विशेष रूप से डीजे डांस कार्यक्रमों और क्लबों, पबों, रेस्तरां तथा अन्य स्थानों पर विशेष कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है ताकि इस वायरस को फैलने से रोका जा सके। सार्वजनिक स्थानों और समारोहों के लिए सड़कों पर लोगों का इकट्ठा होना प्रतिबंधित है, लेकिन इन स्थानों पर आम गतिविधियां जारी रह सकती हैं।

इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ब्रिटेन में सामने आये कोरोना वायरस के नये प्रकार पर भारत में नजर बनाये हुए है। उन्होंने कहा कि सचेत रहना होगा और बाहर से आने वालों की जांच करनी होगी और आवश्यक कदम उठाने होंगे।

उन्होंने कहा कि बाहर से लौटने वाले वे सभी लोग जिनका सरकार पता नहीं लगा सकी है कृपया स्वयं अपनी जांच कराएं और संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद करें।

उन्होंने कहा, ‘‘राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में मैं उन सभी से अपील करता हूं, जो पिछले दो महीनों में यहां आए हैं, वे आगे आकर अपनी स्वास्थ्य जांच करायें और सहयोग करें। यह ख्याल रखें कि आप दूसरों के लिए परेशानी पैदा न करें।’’

अब तक राज्य में लौटे सात लोग कोरोना वायरस के नये प्रकार (स्ट्रेन) से संक्रमित पाये गये हैं और उनका विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

एयर इंडिया और ब्रिटिश एयरवेज की उड़ानों से 25 नवम्बर से 22 दिसम्बर तक ब्रिटेन से कुल 2,500 लोग राज्य में लौटे हैं।

उनमें से 1,903 यात्रियों की अभी तक जांच की गई है। इनमें से 29 की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है जबकि 1,599 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आयी है। 275 लोगों की रिपोर्ट अभी आनी है।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने विदेशों से आए लोगों का पता लगाने के लिए गृह विभाग और पुलिस से संपर्क किया है।

एक सवाल के जवाब में येदियुरप्पा ने कहा कि फिलहाल दिशा-निर्देशों में कोई बदलाव नहीं किया गया है, ‘‘अगर दिल्ली से (केन्द्र सरकार) कोई निर्देश आता है तो देखा जाएगा।’’

भाषा अर्पणा माधव

माधव

Share This

0 Comments

Leave a Comment

कोरोना वायरस का खतरा कम नहीं हुआ है: येदियुरप्पा

बेंगलुरु, 30 दिसम्बर (भाषा) कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने बुधवार को कहा कि कोरोना वायरस का खतरा अभी कम नहीं हुआ है और महामारी को लेकर जरा सी भी लापरवाही नहीं की जानी चाहिये। उन्होंने कहा कि अभी सुरक्षा दिशा-निर्देशों में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

उन्होंने नागरिकों से दिशा-निर्देशों का पालन करने और सावधानी बरतने की अपील की। उन्होंने ब्रिटेन से लौटने वाले लोगों से भी यूरोपीय देश में सामने आये कोरोना वायरस के नये स्वरूप को फैलने से रोकने के वास्ते आवश्य स्वास्थ्य जांच या परीक्षण कराने का आह्वान किया।

येदियुरप्पा ने कहा, ‘‘प्रिय नागरिकों, कोरोना वायरस का खतरा अभी भी कम नहीं हुआ है। जैसा कि हम नए साल में प्रवेश करने वाले हैं यहां तक कि महामारी के बारे में थोड़ी सी भी लापरवाही नहीं की जा सकती है।’’

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘सरकार के दिशा-निर्देशों और नियमों का पालन करें और सभी आवश्यक एहतियाती उपाय करके सुरक्षित रहें, और सहयोग करें।’’

मुख्यमंत्री ने नववर्ष के मद्देनजर यह अपील की है। सरकार ने नये साल की पार्टियों, विशेष डीजे डांस कार्यक्रमों और क्लबों, पबों, रेस्तरां तथा अन्य स्थानों पर विशेष कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है ताकि इस वायरस को फैलने से रोका जा सके।

सार्वजनिक स्थानों और समारोहों के लिए सड़कों पर लोगों का इकट्ठा होना प्रतिबंधित है, लेकिन इन स्थानों पर आम गतिविधियां जारी रह सकती हैं।

इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ब्रिटेन में सामने आये कोरोना वायरस के नये स्वरूप पर भारत में नजर बनाये हुए है।

उन्होंने कहा, ‘‘हमें सचेत रहना होगा और उन लोगों की जांच करनी होगी, जो बाहर से आए हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में मैं उन सभी से अपील करता हूं, जो पिछले दो महीनों में यहां आए हैं, वे आगे आकर अपनी स्वास्थ्य जांच करायें और सहयोग करें। यह देखें कि आप दूसरों के लिए परेशानी पैदा न करें।’’

अब तक राज्य में लौटे सात लोग कोरोना वायरस के नये स्वरूप (स्ट्रेन) से संक्रमित पाये गये हैं और उनका विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

दो उड़ानों एयर इंडिया और ब्रिटिश एयरवेज से 25 नवम्बर से 22 दिसम्बर तक ब्रिटेन से कुल 2,500 लोग राज्य में लौटे हैं।

भाषा

देवेंद्र दिलीप

दिलीप

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password