अब होम आइसोलेशन में नहीं रहेंगे कोरोना संक्रमित, जिला कलेक्टर ने जारी किए निर्देश -

अब होम आइसोलेशन में नहीं रहेंगे कोरोना संक्रमित, जिला कलेक्टर ने जारी किए निर्देश

DD NEWS

रायगढ़. जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार वृद्धि होने पर कलेक्टर भीम सिंह ने मंगवार को एक अहम बैठक की। इस बैठक में एडीएम राजेन्द्र कटारा, सीईओ जिला पंचायत ऋचा प्रकाश चौधरी, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. लूकाए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसएन केशरी के साथ बैठक की। बैठक में संक्रमित मरीजों के इलाज और बीमारी को फैलने से रोकने के लिए किए जा रहे उपायों पर चर्चा की।

रायगढ़ कलेक्टर भीम सिंह ने बताया कि रायगढ़ शहर में वार्डवार रैंडम सेम्पल लेकर जांच कराये जाने से संक्रमित मरीजों की पहचान हो रही है। प्रशासन द्वारा संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में कोविड अस्पताल बनाए गए हैं और बेड संख्या में भी वृद्धि की जा रही है।

शहरी क्षेत्र में हाई रिस्क डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, हृदय और किडनी रोग वाले 5237 व्यक्तियों की पहचान किया गया था, जिनमें से केवल 1244 व्यक्तियों ने ही सेम्पल दिया। कलेक्टर ने आम लोगों से अपील की है कि गंभीर बीमारियों से ग्रस्त व्यक्ति तथा उनके परिवार के अन्य सदस्य अपनी सुरक्षा को देखते हुए सेम्पल देकर जांच कराएं।

उन्होंने कहा कि सभी व्यक्तियों के जीवन का मूल्य समान है। शासन का प्रयास है कि सभी लोग सुरक्षित रहें और प्रारंभिक स्थिति में कोरोना संक्रमित होने पर इलाज संभव है, परंतु देरी करने से बड़े से बड़े डॉक्टर्स भी कुछ नहीं कर पाएंगे। इसलिये लोगों को बिना देरी किए शासकीय अस्पतालों में जाकर अपना इलाज कराना चाहिये। कोई भी व्यक्ति सेम्पल देने से मना नहीं कर सकता और यदि कोई मना करेगा तो उसके विरूद्ध एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

कलेक्टर ने कहा कि होम आईसोलेशन के दौरान शासन के गाइड लाइन का पालन नहीं हो रहा है। होम आइसोलेशन के तीन प्रकरणों में मरीजों के घर के अन्य सदस्य भी संक्रमित पाए गए हैं। इसलिए कोरोना संक्रमित पाये जाने पर होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं दी जायेगी। ऐसे व्यक्तियों को कोविड अस्पताल में रहकर ही इलाज कराना होगा।

उन्होंने कहा कि सेम्पल जांच और रिपोर्ट मिलने में गति लाने के निर्देश दिये और जांच लैब में कर्मचारियों तथा डाटा एंट्री ऑपरेटर्स की संख्या कम है तो अतिरिक्त संख्या बढ़ाया जाएगा। जिससे पॉजिटिव पाए गए व्यक्तियों को शीघ्र अस्पताल में शिफ्ट किया जा सकेगा। उन्होंने कोविड अस्पतालों में भर्ती मरीजों के लिये समय से नाश्ता और भोजन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

कोविड अस्पताल में भर्ती मरीज को चाय, नाश्ता तथा भोजन में किसी प्रकार की कमी अथवा गुणवत्ता कम होने की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। कलेक्टर ने कहा कि कोविड अस्पतालों के प्रभारी अधिकारियों को मरीजों की देखभालए अस्पताल तथा शौचालयों की नियमित साफ-सफाई समय से बेडशीट बदलने तथा अन्य व्यवस्था सुनिश्चित करने और सफाई कर्मचारी कम है तो नगर निगम के माध्यम से और सफाई कर्मचारियों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने सफाई कर्मचारियों की आवश्यकता की सामग्री तथा पीपीई किट, दास्ताने जैसे सुरक्षात्मक सामग्रियां भी प्रदान करने तथा कोरोना संक्रमित मरीजों को दिशा-निर्देश दिये जाने के लिए कोविड अस्पतालों में पोर्टेबल माइक तथा साउंड बॉक्स के माध्यम का उपयोग करने के निर्देश दिए हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password