मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों को राहत देते हुए लिया निर्णय, स्टूडेंट्स ने किया फैसले का स्वागत

cg students

रायपुर। प्रदेश के विद्यार्थियों के हित में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कॉलेज की परीक्षाएं ऑनलाइन की है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहाकि कोविड 19 महामारी के कारण मार्च 2020 से लागू लॉक डाउन के कारण उत्पन्न विशेष परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने ये निर्णय लिया है। छ.ग. शासन, उच्च शिक्षा विभाग के उप सचिव डॉ. समरेन्द्र सिंह ने जारी आदेश में कहा कि कोविड 19 महामारी के कारण मार्च 2020 से लागू लॉकडाउन से उत्पन्न विशिष्ट परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा उच्च शिक्षण संस्थानों के अकादमिक कैलेंडर, अध्यापन पद्धति एवं परीक्षा आयोजन के संबंध में समय-समय पर मार्गदर्शी निर्देश जारी किया गया है। इसी अनुक्रम में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के पत्र दिनांक 11 फरवरी 2022 के द्वारा सभी उच्च शिक्षण संस्थानों को क्षेत्रीय परिस्थिति के आधार पर शिक्षण संस्थान खोलने, क्लास रूम का संचालन करने एवं परीक्षाओं का ऑफलाईन / ऑनलाईन / ब्लैण्डेंड मोड में आयोजन संबंधी बिन्दुओं पर निर्णय लिये जाने हेतु अधिकृत किया गया है।

परीक्षाएं भी विलम्ब से ही आयोजित किया जाना प्रस्तावित है

कोविड 19 संक्रमण की द्वितीय एवं तृतीय लहर के परिणाम स्वरूप राज्य में शिक्षा सत्र 2021-22 का अध्यापन कार्य विलम्ब से प्रारंभ हुआ था, जिसके परिणाम स्वरूप पाठ्यक्रम विलम्ब से पूर्ण होकर परीक्षाएं भी विलम्ब से ही आयोजित किया जाना प्रस्तावित है। वार्षिक परीक्षाओं का आयोजन सामान्यतः 50 से 60 दिन में पूर्ण होता है। इतनी लम्बी अवधि

तक Covid appropriate व्यवस्था करना परीक्षा केन्द्रों के लिए बड़ी चुनौती है एवं इस दिशा में चूक के गंभीर परिणाम हो सकते है। इसे देखते हुए परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में विभिन्न विश्वविद्यालयों से प्राप्त सुझावों में ऑनलाईन/ब्लैण्डेंड मोड के संबंध में की गई अनुशंसा के आधार पर वर्ष 2021-22 की शेष परीक्षा ऑनलाईन / ब्लैण्डेंड मोड में आयोजित करने का निर्देश दिया जाता है।

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password