Nagriya Nikay Chunav 2021: वर्चस्व दिखाने के लिए नेतापुत्रों के बीच खूनी झड़प, सरेआम लगराए कट्टे-पिस्टल

Nagriya Nikay Chunav 2021: वर्चस्व दिखाने के लिए नेतापुत्रों के बीच खूनी झड़प, सरेआम लहराए कट्टे-पिस्टल

ग्वालियर। प्रदेश में नगरीय निकाय चुनावों (Nagriya Nikay Chunav 2021) की तैयारियां जोरों पर चल रहीं हैं। हालांकि अभी तक इन चुनावों के लिए तारीख की घोषणा नहीं की गई है। वहीं, दावेदार अपने-अपने क्षेत्र में प्रचार भी शुरू कर चुके हैं। कई क्षेत्रों में इन चुनावों को लेकर काफी तनाव की स्थिति भी बन रही है। ग्वालियर में निकाय चुनावों को लेकर दो नेतापुत्रों के बीच खूनी झड़प देखने को मिली है। यहां भाजपा के मुख्यालय मुखर्जी भवन के सामने दो नेतापुत्रों के बीच झड़प हो गई। यह झड़प इतनी बढ़ गई कि वहां कट्टे-पिस्टल लहराने लगे। हालांकि हथियारों के बाद वहां अफरा-तफरी मच गई। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर मारपीट का आरोप लगाया है। यह पूरा मामला जनकगंज थाने तक पहुंच गया है।

यह है पूरा मामला…
दरअसल भाजपा जिलाअध्यक्ष कमल मखीजानी के नेतृत्व में शुक्रवार को एक बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक में शनिवार को प्रस्तावित युवा मोर्चा के प्रदेशअध्यक्ष वैभव पवार के स्वागत को लेकर चर्चा की जानी थी। इसी दौरान पूर्व पार्षद बलवीर तोमर के बेटे छोटू तोमर और शीतल भदौरिया के बेटे विक्रम भदौरिया के बीच विवाद हो गया। हालांकि वहां मौजूद मखीजानी ने विवाद शांत करा दिया। इसके बाद दोनों कार्यकर्ता कार्यालय के बाहर आकर झगड़ने लगे। झगड़ा इतना बढ़ गया कि दोनों पक्षों के समर्थक आपस में भिड़ गए। इतना ही नहीं मौके पर पिस्टल और कट्टे भी लहराए गए। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर मारपीट के आरोप लगाए हैं। इस झड़प में दोनों पक्षों के समर्थकों को चोटें आईं हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password