BEEBITE:मधुमक्खी काटने पर आराम पाने के 5 घरेलू नुस्खे

मधुमक्खी जो कि शहद देती है और उसका शहद  कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है। लेकिन इस मीठे शहद को पाने की चाहत में मधुमख्खी अगर आपको काट बैठें तो  आप दर्द से तड़प उठते हैं। और हां इसके ज़हर से फैला संक्रमण काफी तकलीफ देता है जिससे काटी हुई जगह पर सूजन आ जाती है और तेज दर्द भी होता है. अगर कभी आपको मधुमक्खी काट ले तो उसके लिए तुरंत असर करने वाले कुछ घरेलू उपाय आजमा कर दर्द और सूजन में राहत पा सकते हैं. आइये जानते हैं ये उपाय कौन से हैं।

पहला डंक निकालें
जब भी मधुमक्खी काटे तो सबसे पहले उस जगह से उसका डंक निकालें. क्योंकि यदि डंक अंदर रहा तो उससे संक्रमण फैलने का ज्यादा खतरा होता है, जो असहनीय दर्द का कारण बन सकता है. डंक निकालने के बाद उस जगह को साबुन से साफ कर एंटीसेप्टिक क्रीम लगाएं. आपको फौरन राहत मिल जायेगी.

दूसरा फौरन करें बर्फ का इस्तेमाल
मधुमक्खी के काटने के तुरंत बाद प्रभावित जगह पर बर्फ मलें. बर्फ ठंडा होने के कारण मधुमक्खी का जहर शरीर में फैलेने से रोकता है. साथ ही तेज दर्द में भी राहत मिलती है. और आपको काटी हुी जगह पर ठंडापन महसूस होता है।

तीसरा लगा सकते हैं बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा में पाए जाने वाले गुण जहर के असर को कम करते हैं साथ ही दर्द, खुजली और सूजन में राहत देते हैं. इसीलिए जब भी मधुमक्खी काटे उस जगह पर बेकिंग सोडा लगाएं.कहते हैं बेकिंंग सोडा लगाने से मधुमख्खी का जहर फैलना रूक जाता है।

चौथा विनेगर(सिरके) का करें इस्तेमाल
सिरका जिसका उपयोग आप अचार में करते हैं वो भी बहुत काम का हो सकता है।जिस जगह पर मधुमक्खी काटे उस जगह पर तुरंत विनेगर लगाएं. विनेगर जहर फैलने से रोकता है, जहर के असर को कम करता है, साथ ही दर्द, खुजली और सूजन में भी राहत पहुंचाता है.

पांचवां और आखरी  शहद लगाएं
वो कहते हैं न कि जहर,को जहर काटता है और इसलिए मधुमक्खी के काटने पर तुरंत उसी  का  शहद लगाएं. शहद में पाए जाने वाले हैं एंटी-बैक्टीरियल गुण जहर के असर को कम करने में सहायक होते हैं. इसके अलावा यह संक्रमण फैलने से भी रोकते हैं.

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password