Badrinath Yatra 2021: इस दिन कपाट होंगे बंद, चारधाम यात्रा का भी होगा समापन

गोपेश्वर/देहरादून। विश्व प्रसिद्ध बदरीनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए 20 नवंबर को बंद कर दिए जाएंगे और इसके साथ ही उच्च गढ़वाल हिमालयी क्षेत्र की इस वर्ष की चारधाम यात्रा का समापन हो जाएगा । उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा हरीश गौड़ ने बताया कि शुक्रवार को विजयदशमी के पावन पर्व पर बदरीनाथ मंदिर में परंपरागत पूजा पाठ के बाद पंचाग गणना करके कपाट बंद करने का मुहूर्त निकाला गया जिसके अनुसार शनिवार 20 नवंबर की शाम पौने सात बजे मंदिर के द्वार श्रद्धालुओं के लिए बंद हो जाएंगे । मुहूर्त निकाले जाने के अवसर पर मुख्य पुजारी रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी के अलावा देवस्थानम बोर्ड के अधिकारी और तीर्थ पुरोहित मौजूद रहे ।

चारों धामों में से केवल बदरीनाथ मंदिर के कपाट बंद करने की ही तिथि निकाली जाती है और अन्य तीनों धामों की तिथि दीपावली के त्योहार से ही निर्धारित होती है । गंगोत्री मंदिर के कपाट जहां दिवाली के अगले दिन पांच नवंबर को गोवर्धन पूजा और अन्नकूट पर्व पर बंद किए जाएंगे वहीं छह नवंबर को भैयादूज के पर्व पर केदारनाथ और यमुनोत्री मंदिर के कपाट बंद होंगे । बीस नवंबर को बदरीनाथ मंदिर के कपाट बंद होने के साथ ही इस वर्ष की चारधाम यात्रा का समापन हो जाएगा । उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा के सफल संचालन पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए उम्मीद जताई कि कपाट बंद होने तक यात्रा निर्बाध रूप से चलेगी । इस साल कोविड-19 के कारण चारधाम यात्रा 18 सितंबर से शुरू हो पायी और बृहस्पतिवार 14 अक्टूबर तक देश भर से 1,14,195 श्रद्धालु धामों में दर्शन के लिए पहुंचे ।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password