मार्कफेड ने 101 लोगों को किया नियमित, अब संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण का रास्ता साफ

भोपाल: प्रदेश के विभिन्न विभागों के काम कर रहे संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण का रास्ता साफ होता दिखाई दे रहा है। क्योंकि हाल ही में सहकारिता विभाग के तहत आने वाले राज्य सहकारी विपणन संघ (मार्कफेड) ने 101 संविदा कर्मचारियों नियमित कर दिया है।

मार्कफेड ने यह कदम 5 जून 2018 को शासन द्वारा जारी संविदा नियमों को आधार बनाकर सेटअप में बदलाव करवाकर उठाया है। दरअसल, मार्कफेड ने 2015 में 101 क्षेत्रीय सहायकों की भर्ती की थी, संविदा कर्मचारियों के संघों द्वारा पिछले 12 साल से संविदा कर्मचारियों को नियमित करने के लिए लगातार आंदोलन किए गए, जिसके बाद सामान्य प्रशासन विभाग को नियमितीकरण के नए नियम बनाना पड़ा।

संविदा कर्मचारियों की नहीं भेजी जानकारी

मध्य प्रदेश संबिदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष रमेश राठौर ने बताया कि जीएडी ने संविदा कर्मचारियों के बारे में तमाम विभागों में समय-समय पर जानकारी मांगी थी, लेकिन उन्हें ज्यादातर विभागों ने जानकारी नहीं भेजी। इसके साथ ही डेढ़ साल पहले तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने भी वचन पत्र में संविदा कर्मचारियों को नियमित करने का वादा किया था।

आइए जानते हैं किन विभागों में कितने संविदा कर्मचारी काम कर रहे हैं

पंचायत एंव ग्रामीण विकास विभाग 18000 स्वास्थ्य विभाग 24000 ऊर्जा विभाग 7000 राज्य शिक्षा केन्द्र 3200 महिला बाल विकास विभाग 1600 खेल एवं युवक कल्याण विभाग 1200 लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग 1500 नगरीय प्रशासन विभाग 800 सामान्य प्रशासन विभाग 450 लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी 850, राज्य शिक्षा केन्द्र, सर्वशिक्षा अभियान, रोजगार गारंटी परिषद, जिला स्वास्थ्य समिति का नाम प्रमुख रूप से शामिल था।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password