Minister Prabhu Ram Choudhary : निरीक्षण करने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, मिलावटखोरों को छोड़ेंगे नहीं और ईमानदार व्यापारियों को छेड़ेंगे नहीं



Minister Prabhu Ram Choudhary : निरीक्षण करने पहुंचे मंत्री ने कहा, मिलावटखोरों को छोड़ेंगे नहीं और ईमानदार व्यापारियों को छेड़ेंगे नहीं

Minister Prabhu Ram Choudhary

भोपाल. स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभु राम चौधरी Minister Prabhu Ram Choudhary आज दोपहर को ईदगाह हिल्स पर स्थित राज्य खाद्य प्रयोगशाला का निरीक्षण करने पहुंचे। खाद्य प्रशासन कार्यालय में स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभु राम चौधरी ने मिलावट से मुक्ति अभियान की प्रगति के संबंध में अधिकारियों के साथ बैठक की। मिलावटखोरों पर सख्त कार्रवाई को लेकर मंत्री ने अधिकारियों से चर्चा की।

खाद्य सुरक्षा प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे
बैठक में मंत्री प्रभुराम चौधरी ने कहा कि पूरे प्रदेश में मिलावट के खिलाफ सरकार द्वारा सख्त निर्देश दिये गए है। डॉ प्रभु राम चौधरी ने कहा कि मध्यप्रदेश में खाद्य पदार्थों में पेस्टीसाइड्स की मात्रा और स्वास्थ्य के लिये घातक मेटल्स की मात्रा का परीक्षण राज्य खाद्य प्रयोगशाला में किया जाने लगा है। नव निर्मित राज्य खाद्य प्रयोगशाला में यह पहल आधुनिक मशीनों के माध्यम से ऑनरेरियम पर अप्वाइंट किये गये छात्र,छात्राओं के माध्यम से की गयी है। इस बैठक में मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी के साथ स्वास्थ्य आयुक्त डॉ संजय गोयल और खाद्य सुरक्षा प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे।

अधिकारियों को निर्देश दिये
स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने मिलावट से मुक्ति अभियान की शुरूआत में अधिकारियों को निर्देश दिये थे कि नयी प्रयोगशाला में लगायी गयी आधुनिक मशीनों को उपयोग में लाया जाना प्रारंभ किया जाये। नियमित नियुक्तियों की प्रतीक्षा किये बगैर फ्रेशर स्टूडेंट को शॉर्टण्टर्म रिफ्रेशर कोर्स के माध्यम से प्रशिक्षित कर कार्य प्रारंभ किया जाये। विभाग द्वारा की गयी इस नयी पहल के सकारात्मक परिणाम सामने आये।

अभियान के पहले एक माह में 700 नमूनों की जाँच करने वाली प्रयोगशाला में 2 हजार नमूनों की जाँच करने की क्षमता विकसित हुई और इससे अभियान के दौरान प्रयोगशाला में आने वाले नमूनों की जाँच समय अवधि के भीतर करने में कामयाबी प्राप्त हुई।

अब आधुनिक मशीनों से प्रयोगशाला में हो रही जाँच
स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने बताया कि खाद्य पदार्थों में पेस्टीसाइड के माध्यम से घातक रसायनों और लेडए मैग्नीशियम आदि घातक मेटल्स की खाद्य पदार्थ में कितनी मात्रा है और इस मात्रा का स्तर किस प्रकार घातक है। इसकी जाँच अब आधुनिक मशीनों से राज्य खाद्य प्रयोगशाला में हो रही है।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password