Yearly Horoscope 2022 Scorpio : नए साल में इन्हें मिलने वाला है कुबेर का खजाना, चैक करें अपनी राशि

yearly horoscpe

नई दिल्ली। नया साल सभी के लिए Yearly Horoscope 2022 Scorpio  कुछ न कुछ नया लेकर आने वाला है। महज कुछ ही दिनों में नया साल दस्तक देने वाला है। ज्योतिषाचार्यों की मानें तो नया साल वृश्चिक राशि के जातकों को साल के आखिरी चार महीनों में भारी धन लाभ कराने वाला है। आइए जानते हैं ज्योतिषाचार्या पंडित अनिल कुमार पाण्डेय के अनुसार क्या कह रहे हैं इनके तारे।

वृश्चिक राशि की प्रकृति —
वृश्चिक राशि, राशि चक्र की आठवीं राशि है। विशाखा नक्षत्र का अंतिम एक चरण, अनुराधा नक्षत्र के चारों चरण तथा ज्येष्ठा नक्षत्र के चारों चरण मिलकर वृश्चिक राशि का निर्माण करते हैं। इस राशि का स्वामी मंगल है। इस राशि की आकृति बिच्छू जैसी होती है। इसका स्वभाव स्थिर है। वृश्चिक राशि की प्रकृति सोम्य है। इस राशि का तत्व जल है, गुण राजसी है जाति ब्राम्हण है। यह दिन में बलि होती है। उत्तर दिशा की स्वामी है। इस राशि की प्रकृति कफ की है। शरीर में गुप्तांग और गुदा पर होने वाले सभी क्रियाओं का असर इसी राशि से देखा जाता है। इसके अलावा यह एक सजल राशि भी है। इस राशि के जातक दृढ़ निश्चयी, तीक्ष्ण वाणी युक्त एवं स्पष्ट वक्ता होते हैं। शरीर की लंबाई एवं जननेन्द्रिय का विचार भी इस राशि से किया जाता है। वृश्चिक राशि में उत्पन्न व्यक्ति बाल्यावस्था से ही परदेश में रहने वाला, शूरवीर, अभिमानी और साहस से धन प्राप्त करने वाला होता है। इस राशि वालों के लिए शुक्र बाधक ग्रह होता है। वृष राशि बाधक राशि होती है और चंद्रमा इनके लिए शुभ ग्रह होते हैं।

वर्ष के प्रारंभ में ग्रहों की स्थिति —
वर्ष के प्रारंभ में गुरु मकर राशि में रहेंगे। 13 अप्रैल से मीन राशि गोचर करेंगे। 29 जुलाई से गुरु मीन राशि में वक्री होंगे। 24 नवंबर से मार्गी हो जाएंगे। इसी प्रकार शनि 28 अप्रैल को कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। 5 जून से शनि वक्री होंगे। 12 जुलाई को मकर में प्रवेश करेंगे। 13 अक्टूबर से शनि मकर राशि में मार्गी हो जाएंगे। राहु 11 अप्रैल को अपनी उच्च राशि वृष से वक्री चाल चलते हुए मेष राशि में प्रवेश करेंगे। इसके बाद पूरे वर्ष भर मेष राशि में ही रहेंगे। अन्य ग्रह जैसे सूर्य, मंगल, शुक्र आदि महीने के अनुसार बदलते रहेंगे।

जीत सकते हैं चुनाव —
वृश्चिक राशि के जातक जो राजनीति से जुड़े या जनप्रतिनिधि है उनके लिए अप्रैल 2022 के बाद का समय अत्यंत उत्तम है। ये इस अवधि में कोई भी इलेक्शन जीत सकते हैं। जून, जुलाई, अगस्त, सितंबर और अक्टूबर के महीने में उनको थोड़ी परेशानी आ सकती है। अक्टूबर माह के उपरांत जनता में उनकी मान मर्यादा बढ़ेगी।

धन उपार्जन –
वर्ष 2022 के प्रारंभ में धन उपार्जन थोड़ा कम होगा। परंतु मध्य और अंत में उचित मात्रा में धन प्राप्त होगा। अगस्त, सितंबर और अक्टूबर के महीनों में भारी मात्रा में धन आएगा। इसके अलावा मार्च-अप्रैल में भी धन आएगा। आपको चाहिए कि आप इस अवधि में पर्याप्त परिश्रम करें। जिससे समय अनुसार आपको अधिक धन मिल सके।

उपाय-
आपको चाहिए कि आप स्नान करने के उपरांत तांबे के पात्र में जल लेकर तथा उसमें लाल पुष्प और अक्षत डालकर भगवान सूर्य को सूर्य मंत्रों के साथ अर्पण करें।

कैरियर-
आपका कैरियर पूरे वर्ष भर सामान्य रहेगा। अप्रैल माह के बाद आपको एक ऐसे व्यक्ति का सहयोग प्राप्त होगा। जो कार्यालय में आपकी हर तरह से मदद करें करेगा। जुलाई और अगस्त के महीने में कार्यालय में आपका रूतबा बढ़ेगा। परंतु इस समय आपको चाहिए कि आप अधिकारियों से व्यर्थ का वाद विवाद न करें।

उपाय-
आपको चाहिए कि आप शनिवार को पीपल के पेड़ के नीचे आटे दीपक में दीया जलाकर पीपल के पेड़ की सात बार परिक्रमा करें।

भाग्य-
वर्ष 2022 के पूर्वार्ध में आपका भाग्य सामान्य रूप से कार्य करेगा। परंतु वर्ष के मध्य और अंत में आपको भाग्य से बहुत मदद मिलेगी। विशेषकर मई, जून, नवंबर और दिसंबर के महीने में। भाग्य की वजह से आप के अधिकांश कार्य हो सकते हैं। परंतु इसका अर्थ यह नहीं है कि पुरुषार्थ न करें। केवल भाग्य के सहारे ही बैठ जाएं।

उपाय-
गुरुवार का व्रत रखें और गुरु का जाप करें।

परिवार-
वर्ष के प्रारंभ में आपका या आपके जीवन साथी का स्वास्थ्य खराब हो सकता है। इस समय आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सतर्क रहने की आवश्यकता है। वर्ष के मध्य एवं अंत में आपके स्वास्थ्य खराब रहने की संभावना ज्यादा है। इस समय आपके जीवन साथी का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। अप्रैल महीने के बाद से आपके पिताजी के स्वास्थ्य में थोड़ी कमजोरी आएगी। जो कि जून महीने तक चलेगी। जून महीने से आपके पिताजी का स्वास्थ्य ठीक होने लगेगा। आपका अपने भाई बहनों से संबंध सामान्य रहेगा। आपके संतान को फरवरी महीने के बाद से प्रमोशन इत्यादि मिल सकता है।

उपाय –
घर की बनी पहली रोटी गौ माता को दें।

स्वास्थ्य-
वर्ष के प्रारंभ में आपका स्वास्थ्य खराब हो सकता है। वर्ष के मध्य एवं अंत में आपके स्वास्थ्य खराब रहने की संभावना ज्यादा है। वर्ष के मध्य एवं अंत में छोटे-मोटे एक्सीडेंट हो सकते हैं।

उपाय-
आपको चाहिए कि आप राहु की शांति का उपाय करवाएं।

यह भी पढ़े : Third Wave In Jyotish 2022 : अगले वर्ष कब आएगी तीसरी लहर, जानें क्या कह रहा है ज्योतिष का गणित, दूसरी लहर में भी बने थे यही योग

व्यापार-
वर्ष 2022 में आपका व्यापार ठीक चलेगा इसमें समय-समय पर तेजी आएगी। मार्च-अप्रैल और सितंबर अक्टूबर में आपके व्यापार में विशेष रुप से तेजी आएगी। आपको इस समय का विशेष रूप से उपयोग करना चाहिए। व्यापार में तेजी के लिए भाग्य का भी योगदान होता है। आपका व्यापार विशेष रुप से अप्रैल के महीने के बाद तेजी से सफल होगा।

उपाय-
आपको चाहिए कि आप महीने में एक बार सत्यनारायण भगवान की कथा सुनें।

विवाह-
अविवाहित जातकों के लिए वर्ष के प्रारंभ में विवाह में काफी बाधाएं आएंगी। आपको चाहिए कि आप इन बाधाओं से पूर्व से ही सतर्क रहें। जून-जुलाई तथा नवंबर और दिसंबर के महीने में आपके पास शादी के कई प्रस्ताव आएंगे। जिनका उपयोग आपको करना चाहिए।

उपाय-
किसी विद्वान ब्राह्मण से राहु के शांति का उपाय करवाएं। पुखराज धारण करें।

Numerology 2022 : इस मूलांक वालों के लिए कभी न भूलने वाला होगा नया साल, क्या आपकी जन्म तारीख भी है यही

मकान कार जमीन आदि –
आपकी कुंडली के गोचर में सुखेश अपने भाव में अप्रैल के अंत में पहुंचेगा जिसके बाद से इस बात की पूरी संभावना होगी, कि आप अगर प्रयास करें तो मकान कार जमीन आज खरीद सकते हैं। इसी समय से आपकी कुंडली के गोचर के अनुसार आपके खर्चे में भी वृद्धि हो रही है। अतः इस बात की पूरी संभावना है कि खर्चे में यह वृद्धि मकान कार आदि खरीदने के कारण हो।

उपाय-
आपको हर शनिवार को दक्षिण मुखी हनुमान जी के मंदिर में जाकर कम से कम 3 बार हनुमान चालीसा का जाप करना चाहिए।

वार्षिक उपाय-
ऊपर हर विषय पर अलग-अलग उपाय दिए गए हैं। ये उपाय केवल उस विषय विशेष के लिए ही हैं। जैसे कि अगर आप मकान खरीदना चाहते हैं और मकान खरीदने का कार्य नहीं कर पा रहे हैं तो आपको वर्ष के हर शनिवार को दक्षिण मुखी हनुमान जी के मंदिर में जाकर हनुमान चालीसा का जाप करना है। अपने संपूर्ण कष्टों के निवारण के लिए आपको चाहिए कि आप किसी विद्वान ब्राह्मण से महीने के पूर्णमासी और एकादशी को सुंदरकांड का पाठ कराना चाहिए।

Shukra Ka Gochar 2022 : नए साल की शुरुआत में सबसे पहले यह ग्रह बदलेगा अपनी चाल, इन राशियों के कैरियर में आएगा बड़ा बदलाव

नोट : इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित है। बंसल न्यूज इसकी पुष्टि नहीं करता। अमल में लाने से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password