Corona Update: अब मध्य प्रदेश में नहीं आ पाएंगी महाराष्ट्र से यत्री बसें, कोरोना के चलते प्रशासन ने लिया फैसला

Corona Update: अब मध्य प्रदेश में नहीं आ पाएंगी महाराष्ट्र से यत्री बसें, कोरोना के चलते प्रशासन ने लिया फैसला

भोपाल। प्रदेश में कोरोना महामारी लगातार पैर पसार रही है। इसको लेकर सीएम शिवराज सिंह ने भोपाल और इंदौर में नाइट कर्फ्यू भी लगा दिया है। इसके बाद भी रोजाना कोरोना के सैकड़ों संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने एक और कड़ा फैसला लिया है। इस फैसले के तहत महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश आने वाली यात्री बसों पर रोक लगा दी गई है। यह रोक 20 मार्च तक जारी रहेगी। इसकी जानकारी जनसंपर्क अधिकारी ने दी है।

जनसंपर्क विभाग के मुताबिक सीएम शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समस्त आयुक्तों-जिलाधिकारियों तथा मेडिकल कॉलेज के डीन से चर्चा की थी। इसी बैठक में यह फैसला लिया गया है। दरअसल महाराष्ट्र में बनी कोरोना की विस्फोटक स्थिति को देखते हुए महाराष्ट्र से आने-जाने वाली यात्री बसों के आवागमन पर 20 मार्च से रोक लगाने के निर्देश दिए हैं।

लगातार बढ़ रहे कोरोना के मरीज…
बता दें कि प्रदेश में कोरोना महामारी लगातार पैर पसार रही है। रोजाना प्रदेशभर से सैकड़ों मरीज सामने आ रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के निर्देशानुसार व्यवसायिक गतिविधियों में रोक नहीं लगाई जा सकती है। वहीं होली के कारण बाजारों में भी चहल-पहल बनी हुई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में महाराष्ट्र में 25,833 नए मामले सामने आए हैं। ये आंकड़े रोजाना आने वाले मामलों में अब तक सबसे ज्यादा है।

वहीं गुरुवार को ये आंकड़ा 23,179 था. इसी के साथ मुंबई में भी एक दिन में अब तक सबसे ज्यादा 2788 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ महाराष्ट्र में कोरोना के कुल मामले 23,96,340 हो गए हैं। महाराष्ट्र में अब तक कुल 53,138 मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं पिछले 24 घंटे में कोरोना से 58 लोगों की मौत हो गई है। इससे पहले गुरुवार को राज्य में 23,179 नए केस सामने आए थे और 84 लोगों की मौत हुई थी। नागपुर, मुंबई और पुणे में हालत सबसे खराब बताई जा रही है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password