दुनिया का सबसे मजबूत पदार्थ, कागज से 10 गुना हल्का लेकिन स्टील से 100 गुना ज्यादा मजबूत, जानिए इसकी खासियत

graphene

नई दिल्ली। अगर हम आपसे पूछें कि सबसे मजबूत सामग्री क्या है? आप आमतौर पर लोहे, स्टील या फिर हीरा का नाम लेंगे। लेकिन, ये गलत है। ग्रेफीन (Graphene) एक ऐसा मटेरियल है जो दुनिया का सबसे मजबूत सामग्री है। ये कार्बन का एक फॉर्म है। इस मटेरियल की न तो ज्यादा मोटाई और न ही इसका वेट है। फिर भी इसे दुनिया का सबसे मजबूत मटेरियल माना जाता है।

स्टील से 100 गुना ज्यादा मजबूत

इतना ही नहीं ये स्टील से भी 100 गुना ज्यादा मजबूत होता है। इसकी 1Squaere मीटर की शीट का वजन महज 0.77 GMS होता है। ग्रेफीन काफी लचीला होता है। इस मेटेरियल में इतने फीचर्स हैं की हम सोच नहीं सकते। इस मटेरियल का इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक और नॉन-इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट बनाने में किया जा सकता है। क्योंकि ये जंग रोधक और कागज से भी 10 गुना ज्यादा हल्का होता है। साथ ही लचीला भी होता है।

इन्होंने की थी ग्रेफीन की खोज

साल 2004 में मैनचेस्टर विवि के दो शोध प्रोफेसर आंद्रे जीम और कोंसटांटि नोवोसोलो ने ग्रेफीन की खोज की थी। यह मधुमक्खी के छत्ते जैसे आकार की एक परत है जो पतले कार्बन परमाणुओं से बना होता है और स्टील से भी कई गुना मजबूत होतै है। इसे दुनिया का सबसे पतला, मजबूत, पारदर्शी और लचीला मटेरियल माना जाता है। इस खोज के लिए दोनों को साल 2010 में भौतकी का नोबल पुरस्कार भी दिया गया था।

दो हाथी मिलकर भी नहीं कर सकते ये काम

हालांकि, ग्रेफिन का निर्माण अभी शुरूआती चरण में है। इसके विकास में अभी थोड़ा समय लगेगा। लेकिन कहा जाता है ग्रेफीन से बने पेपर को दो हाथी मिलकर भी नहीं फाड़ सकते हैं। ग्रेफिन मौलिक रूप से ग्रेफाइट की एक परत है और इसकेआश्चर्यजनक गुणों को देखते हुए इसे दुनिया को बदलने पदार्थ के रूप में देखा जा रहा है। इससे वैज्ञानिक अधिक शक्तिशाली बैटरी विकसित करने की उम्मीद कर रहे हैं जो इतनी छोटी हो सकती है कि उन्हें आप अपने कपड़ों या यहां तक ​​कि आपकी त्वचा में भी छुपाया जा सकता है!

कहां-कहां कर सकते हैं ग्रेफीन का इस्तेमाल

1. ग्रेफीन से बनी इलेक्ट्रिक सामान बहुत मजबूत होंगे जैसे ट्रांसफार्मर, बिजली के खम्बे, और बिजली के वायर आदि।

2. ग्रेफीन बिजली का सबसे अच्छा संवाहक है जिसका इस्तेमाल दूर तक बिजली पहुचाने में किया जा सकता है क्युकी तांबा में बिजली ग्रेफीन के मुकाबले ज्यादा बिजली खर्च होती है।

3. कार, हवाई जहाज, पानी के जहाज बनाने में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है ताकि उनको और ज्यादा मजबूत बनाया जा सके।

4. पारदर्शी होने के कारण इसका इस्तेमाल बुलेट प्रूफ कांचो में, जाकेट और लेबोरटरी में किया जा सकता है।

5. ग्रेफीन सिलिकान से कई गुना बेहतर और तेज है जिससे इसका उपयोग चिप बनाने और कम्प्यूटर के अन्य सामान में किया जा सकता है।

6. ग्रेफीन का उपयोग जल संकट को दूर करने में किया जा सकता है क्युकी ये गंदे पानी को भी साफ कर सकता है ये पानी को आरो से भी ज्यादा साफ कर सकता है बिना उसके किसी तत्व को नुकसान पहुचाये।

7. समुद्र के खारे पानी को साफ करने में इसका उपयोग किया जा सकता है। क्योंकि इसकी परत के उपर परत रखने से ये नमक के कण को भी बाहर ही रोक देगा,आस्ट्रेलिया में ये प्रयोग सफल भी हुआ है।

8. ग्रेफीन जंग रोधक है ग्रेफीन कि परत के उपर परत रख कर हम इसका इस्तेमाल बिल्डिंग मटेरियल में आसानी से कर सकते है।

9. मोबाइल फोन की डिस्प्ले और बैटरी बनाने में इसका उपयोग लाभदायक होगा, क्योंकि ये ज्यादा मजबूत और ज्यादा समय तक चलेगा इसके इस्तेमाल से बैटरी जल्दी चार्ज हो जाया करेगी।

10. Graphene के बने पेंट का इस्तेमाल कर हम घरो को वाटर प्रूफ और जंग रोधक बना सकते हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password