World Water Day 2021 : चाहिए श्री ‘लक्ष्मी’, तो ऐसे पिएं पानी

भोपाल। 22 मार्च का दिन विश्व जल दिवस के रूप में मनाया जाता है। want shri lakshmi then drink water like this  वैसे तो आप सभी को पता होगा कि जल दिवस क्यों मनाया जाता है। पर आज हम आपकों पानी का वास्तु शास्त्र और धर्म के अनुसार उसका महत्व बताने जा रहे हैं। पंडित सनत कुमार खम्परिया के अनुसार हम आपको अलग—अलग धातुओं के बर्तन में जल को पीने का महत्व बता रहे हैं। इन उपायों को करके आप विभिन्न प्रकार की बाधाओं से मुक्ति पा सकते हैं।

मिलेगी मंगल दशा से शांति
अगर आपको मंगल की दशा चल रही है और इससे शांति चाहते हैं तो आपको बताया गया यह उपाय कारगार साबित हो सकता है। जी हां वास्तु शास्त्र के अनुसार रात को सोते समय सिरहाने के पास तांबे के बर्तन में पानी रखें। सुबह वह पानी पीने से मंगल दशा की शांति होती है।

पीतल के बर्तन में
अगर आप पीतल के बर्तन में पानी पीते हैं तो आपको यश प्राप्ति होती है। कार्य क्षेत्र में आपको मान—सम्मान मिलता है। पहले के समय में लोग पीतल के बर्तनों का उपयोग पानी पीने के लिए किया करते थे।

तांबे के बर्तन में
तांबे के बर्तन में पानी ​पीने से आपको भूमि लाभ होता है। साथ ही स्थायी संपत्ति में बढ़ावा होता है। साथ ही इससे उदर विकार में भी लाभ होता है।

चांदी के बर्तन में
चांदी का बर्तन भी आपको धन प्राप्ति के रास्ते खोल सकता है। साथ ही चांदी के बर्तन में पानी ​पीने से गुस्सा शांत होता है। इसलिए पहले के समय में बच्चों को चांदी के बर्तन में पानी पिलाया जाता था।

सोने के बर्तन में
अगर आपका धन कहीं फसा हुआ है और आप उसको वापस चाहते हैं तो ऐसे में आपको बताया गया यह उपाय कारगर साबित हो सकता है। वास्तु के अनुसार अगर आप सोने के बर्तन में पानी का सेवन करते हैं तो आपकी खोई हुई लक्ष्मी तो आपको मिलती ही है साथ ही धन—संपत्ति जमा भी होती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password