Women talk more: हर दिन पुरूषों की तुलना में ज्यादा बोलती हैं महिलाएं, जानिए ऐसा क्यों होता है?

women talk more

नई दिल्ली। आपने कई बार ये सुना होगा कि महिलाएं पुरूषों को बोलने नहीं देती। एक रिसर्च में भी यह साबित हो चुका है कि महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज्यादा बातूनी होती हैं यानी कि वो ज्यादा बोलती है। लेकिन कितना ज्यादा बोलती है हम आज यही जानने की कोशिश करेंगे।

एक दिन में 20 हजार शब्द बोलती हैं महिलाएं

एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक महिला एक दिन में औसतन 20 हजार शब्द बोलती है। वहीं पुरूष इस करीब 13 हजार शब्द प्रतिदिन बोलते हैं। यानी एक पुरूष महिला से 7 हजार शब्द प्रतिदिन कम बोलता है। हालांकि महिलाओं के ज्यादा बोलने के पीछे एक वैज्ञानिक कारण है। अमेरिका के मैरिलैंड यूनिवर्सिटी के एक्सपर्ट्स के मुताबिक महिलाओं के दिमाग में Foxp2 नामक कैमिकल ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। यह एक तरह का लैंग्वेज प्रोटीन है।

लड़कियां बचपन में जल्दी बोलना शुरू कर देती हैं

इसी कैमिकल के कारण लड़कों के बजाए, लड़कियां बचपन में जल्दी बोलना शुरू कर देती हैं। साथ ही लड़कों के मुकाबले लड़कियों के पास ज्यादा शब्दकोश भी होता है। ‘साइंटिफिक रिपोर्ट्स’ के एक अध्ययन में पाया गया था कि जो कामकाजी महिलाएं होती हैं वो लंच ब्रेक के दौरान ज्यदा बातें करती हैं। इतना ही नहीं ये ऑफिस में अन्जान लोगों से भी बात कर लेती हैं। इसलिए आप में से ज्यादातर लोगों ने रिसेप्शन पर महिलाओं को देखा होगा।

मीटिंग में कम बोलती हैं महिलाएं

वहीं इस रिपोर्ट में ये भी दिलचस्प खुलासा हुआ था कि ऑफिस मीटिंग्स के दौरान महिलाएं कम बोलती हैं। जबकि पुरूष इस दौरान ज्यादा बोलते हैं। अगर वो मीटिंग में बोलती भी हैं तो काफी छोटे वाक्यों का प्रयोग करती हैं। एक्सपर्ट्स इस चीज को लेकर कहते हैं कि महिलाएं ऐसा इसलिए करती है ताकि वो बता सकें कि वो ज्यादा नहीं बोलती हैं। लेकिन जैसे ही मीटिंग खत्म होती है। वे बाहर निकलते ही सबसे पहले कमेंट्स करती हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password