FACT CHECK: क्या कच्चे प्याज के साथ सेंधा नमक खाने से खत्म हो जाएगा कोरोना? जानिए वायरल हो रही खबर का पूरा सच

नई दिल्ली। भारत में जिस तेजी से कोरोना वायरस की दूसरी लहर (Coronavirus second wave) फैल रही है, उतनी ही तेजी से बीमारी से बचने या कोविड-19 के इलाज के लिए घरेलू नुस्खे (Home remedies for covid-19 cure) और अन्य उपाय भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। कोई शरीर में ऑक्सीजन के लेवल को बढ़ाने के लिए लौंग, अजवाइन, कपूर और यूकेलिप्टस के तेल की पोटली बनाकर सूंघने की सलाह दे रहा है तो कोई प्याज-लहसुन और किचन में मौजूद अन्य मसालों को खाने की बात कर रहा है। कोरोना महामारी के समय सोशल मीडिया पर घरेलू नुस्खों और उपायों की बाढ़ सी आ रखी है।

PIB के फैक्ट चेक में झूठा निकला दावा

ऐसी ही एक सलाह इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है (Viral post on socoal media) कि अगर कच्चे प्याज को सेंधा नमक (Eating raw onion with Rock Salt) के साथ खाया जाए तो इससे कोविड-19 का इलाज हो सकता है. लेकिन इस दावे में कोई सच्चाई नहीं है और प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) के फैक्ट चेक विंग ने कहा कि यह दावा झूठा है और इसमें कोई सच्चाई नहीं है (Fake claim). इस बात के कोई वैज्ञानिक सबूत या इस तरह की कोई स्टडी मौजूद नहीं है जो यह दावा कर सके कि कच्चा प्याज और सेंधा नमक खाने से कोरोना वायरस इंफेक्शन का इलाज किया जा सकता है। इसलिए इस तरह के झूठे दावे करने वाले मेसेज को शेयर नहीं करना चाहिए।

कोरोना के इलाज में देसी नुस्खे यूज करते वक्त सावधान रहें- WHO 

दरअसल, सोशल मीडिया पर इन दिनों एक ऑडियो मेसेज शेयर किया जा रहा है (Audio message is circulating) जिसमें कहा जा रहा है कि सेंधा नमक के साथ कच्चा प्याज छीलकर खाने से 15 मिनट बाद लोग पॉजिटिव से निगेटिव हो रहे हैं। इसलिए इसे खा लेने में कोई बुराई नहीं है। ठीक ऐसा ही दावा साल 2020 में भी जब कोरोना अपने पीक पर था तब भी किया गया था। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो प्याज और लहसुन में कुछ एंटीवायरल तत्व (Antiviral) जरूर होते हैं लेकिन ये कोरोना संक्रमण को खत्म नहीं कर सकते (Cannot cure Coronavirus infection)। WHO की तरफ से पहले भी घरेलू नुस्खों से कोविड 19 का इलाज करने को लेकर सावधान रहने की सलाह दी गई है।

इन भ्रामक और झूठे दावों को रोकने की जरूरत

महिला का ऐसा मानना था कि कोविड वैक्सीन उसके और उसके परिवार वालों के लिए खतरनाक हो सकती है (Women believed vaccine could be dangerous)। इसलिए उसने वैक्सीन लेने की जगह घरेलू नुस्खा अपनाना बेहतर समझा। अखबार की रिपोर्ट में आगे कहा गया कि कोविड-19 के इलाज के लिए इस तरह के जो झूठे और गलत दावे किए जा रहे हैं वह भी एक बड़ी समस्या है जिसे सामने लाने और सही समय पर सुलझाने की जरूरत है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password