यहां दिलजलों को डिस्काउंट, प्रेमियों से लेते हैं पूरी रकम

यहां दिलजलों को डिस्काउंट, प्रेमियों से लेते हैं पूरी रकम

राजगढ़/पंकज शर्मा। मध्य प्रदेश के राजगढ़ में प्रेम प्रसंग का एक अलग ही तरीके का मामला सामने आया है। जहां लोग प्रेम प्रसंग में धोखा मिलने पर जाने लेने और जान देने के लिए तक तैयार हो जाते हैं। ऐसे में यहां एक युवक ने चाय की दुकान खोल ली। यह युवक इस दुकान पर दिलजलों को 5 रुपए और प्रेम करने वालों को 10 रुपए में चाय पिलाता है। जी हां यह बात बिल्कुल सही है। राजगढ़ जिले में एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को चिढ़ाने के लिए चाय की दुकान खोलते हुए उसके नाम का पहला अक्षर से “एम” बेवफा चायवाला, दुकान का नाम रख दिया। इस दुकान पर युवक दिल टूटे हुए आशिकों को 5 रुपए और प्रेमी जोड़े वालों के लिए दस रुपए में चाय पिलाता है। इस चाय वाले के इस अजीब नियम की चर्चा हर कोई कर रहा है। हालांकि ग्राहकों को दुकान का नाम और चाय खूब पसंद आ रही है।

प्रेम प्रसंग में मिला था धोखा
“एम” बेवफा चायवाला, की दुकान चलाने वाले युवक का नाम अंतर गुर्जर है। वह दुकान चलाने के साथ-साथ बीए फायनल की पढ़ाई कर रहा है। जब दुकान के नाम के बारे में युवक से पूछा गया तो अंतर गुर्जर ने अपनी दिल पर बता हुआ किस्सा बताया। उसने बताया कि वह 5 साल पहले एक रिश्तेदार के यहां शादी में आई एक लड़की से उसकी मुलाकात हुई, जो बाद में दोस्ती और फिर प्रेम में बदल गई। दोनों एक ही समाज के होने के कारण उन्होंने शादी के सपने भी देखे। एक दिन बतों-बातों में अंतर के सामने लड़की ने शर्त रखी कि जो भी दुकान खोलो उसका नाम मेरे नाम पर रखना। दोनों में बतों सिलसिला यूं ही जारी था कि डेढ़ साल बाद अंतर के सपने उस समय चकनाचूर हो गए जब उसकी प्रेमिका द्वारा कहीं और सगाई होने की जानकारी उसे मिली। प्रेमिका ने अंतर से शादी करने को लेकर साफ इनकार भी कर दिया। प्रेमिका का कहना था कि तुम्हारे बेरोजगार होने के कारण शादी नहीं हुई है। जिस लड़के से मेरी सगाई हुई है, उसके पास सब कुछ है और कमाता भी अच्छा है। इसपर प्रेमी ने प्रेमिका को चिढ़ाने के लिए “एम” बेवफा चायवाला, के नाम से चाय की दुकान खोल ली।

यें हैं अंतर गुर्जर चायवाला के शब्द-
“मैं एक लड़की से प्यार करता था, उसका नाम “एम” से आता था वह धोखेबाज निकली। हमने “एम” नाम डालकर पीछे बेवफा चायवाला लिखवाकर शॉप खोली है। 2017 की बात है वह लड़की भी प्रेम करती थी। हमारा उनका एक से डेढ़ साल प्रेम चला। उसके बाद हम दोनों के बीच बातचीत नहीं बनी। उनकी और कहीं सगाई हो गई। उसने मेरे से मना कर दिया, तुम्हारे पास क्या है। उन्होंने हमें छोड़ दिया। मैं चांदपुरा गांव के रहने वाले किसान का बेटा हूं। 20 बीघा जमीन है। अभी मेरी शादी नहीं हुई। हम चार बहन भाई हैं। सबसे छोटा में हूं। b.a. फाइनल कर रहा हूं। 5 से 6 महीने पहले चाय की दुकान खोली। उस लड़की ने मुझे धोखा दे दिया। इसी रीजन में बेवफा चायवाला नाम रख लिया।”

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password