अब नाम बदलने की दौड़ में कांग्रेस भी कूदी, इंदौर का नाम बदलने की मांग

अब नाम बदलने की दौड़ में कांग्रेस भी कूदी, इंदौर का नाम बदलने की मांग

Share This

इंदौर: होशंगाबाद के नाम बदलने की मांग उठने के बाद ईदगाह हिल्स, खजराना का नाम बदलने की मांगें उठने लगी। इसी बीच नाम बदलने के फॉर्मूले पर भाजपा के साथ-साथ अब कांग्रेस भी मैदान में उतर गई है। दरअसल, सांसद शंकर लालवानी ने खजराना का नाम बदलकर गणेश नगर करने की मांग थी, जिसके बाद अब कांग्रेस के प्रदेश सचिव ने इंदौर का नाम बदलने की मांग कर दी है। कांग्रेस के प्रदेश सचिव ने सीएम शिवराज को पत्र लिखा जिसमें उन्होंने इंदौर का नाम देवी अहिल्याबाई होलकर के नाम पर किए जाने की मांग की है। इस मांग में उन्होंने कांग्रेस के निरंतर अभियान चलाने की बात भी की है।

क्या कहा प्रदेश सचिव विवेक खंडेलवाल

सीएम शिवराज को पत्र लिखने वाले कांग्रेस के प्रदेश सचिव विवेक खंडेलवाल ने कहा कि बाहर से जितने लोग भी इंदौर आकर व्यापार-व्यवसाय और नौकरी कर रहे हैं। यह बस माता का ही आशीर्वाद है कि लोग आगे बढ़ रहे हैं। आगे उन्होंने कहा कि देवी अहिल्या बाई होलकर परम शिव भक्त थीं और मां नर्मदा की उपासक थीं। इंदौर के हर जन की आस्था माता पर है।

खजराना को गणेश नगर करने की मांग

शंकर लालवानी का कहना है कि देश-विदेश में इंदौर की पहचान प्रसिद्ध गणेश मंदिर से है। इसलिए लोगों की मांग को देखते हुए खजराना इलाके का नाम गणेश नगर या गणेश कॉलोनी होना चाहिए।

खजाना से बना खजराना

पुराने इतिहासकारों के अनुसार होलकर वंशजों ने इस इलाके में स्थित एक कुएं में अपना खजाना छुपा कर रखा था। जिसके चलते धीरे धीरे खजाना से खजराना नाम पड़ गया। हालांकि कुछ इतिहासकारों का ये भी मानना है कि यहां स्थित खजराना दरगाह से इलाके का नाम खजराना पड़ा। हालांकि इतिहासकारों के इन दावों में कितनी सच्चाई है ये कहना मुश्किल है।

होशंगाबाद में चल रही है मांग

इससे पहले होशंगाबाद का नाम भी नर्मदापुरम करने की मांग उठ चुकी है। इसके लिए वहां प्रदर्शन भी शुरू हो गए हैं। इससे पहले भी कई स्थानों के नाम परिवर्तन किए जा चुके हैं। महू का नाम भी आंबेडकरजी के नाम पर किया जा चुका है।

 

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password