Virafin: कोरोना संक्रमित मरीजों को दी जाएगी विराफिन दवा, DGCI ने दी आपातकालीन मजूरी

Virafin

नई दिल्ली। देश में संक्रमण की दूसरे लहर ने कोहराम मचाया हुआ है। सरकार इससे निपटने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। इसी बीच कई खबरें भी आई कि कोरोना से लड़ने में कारगर दवाइयों की कमी है। अब DGCI ने इससे निपटने के लिए जायडस कैडिला (Zydus Cadila) की विराफिन (Virafin) को आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दे दी है।

गंभीर रोगियों के लिए कारगर है विराफिन

जायडस कैडिला गुजरात के अहमदाबाद की फार्मास्यूटिकल कंपनी है। ड्रग्स कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया (Drugs Controller General of India, DGCI) से इजाजत मिलने के बाद कंपनी ने कहा कि Pegylated Interferon alpha-2b, ‘virafin’ को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी मिलने के बाद कोरोना संक्रमण से समान्य लक्षण वाले वयस्क मरीजों को बचाने में काफी मदद मिलेगी।

डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन पर ही मिलेगी दवा

बतादें कि विराफिन एक एंटीवायरल दवा है जो कोरोना के इलाज को और सुविधाजनक बना देगा। हालांकि अभी इसे अस्पताल में ही इस्तेमाल करने को कहा गया है। यानी जबतक मेडिकल स्पेशलिस्ट इसे लेकर प्रिस्क्रिप्शन नहीं देगा, तब तक ये इंजेक्शन नहीं मिल सकता है।

20-25 सेंटर्स पर किया गया था इसका परीक्षण

कंपनी का दावा है कि भारत मे इस दवा का 20 से 25 सेंटर्स में परीक्षण किया गया था। इसके इस्तेमाल के बाद संक्रमित मरजों को ऑक्सीजन की तुलनात्मक रूप से कम ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी। इसके अलावा इस दवा को अन्य वायरल इन्फेक्शन के खिलाफ भी कारगर माना गया है। कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर शर्विल पटेल का कहना है कि ये दवा मरीज को संक्रमण के शुरूआती दौर में दी जाती है। ताकि संक्रमण को ज्यादा फैलने से रोका जा सके।

दवा से वायरस तेजी से खत्म होता है

दवा ने अपने तीसरे चरण के परीक्षण में कोरोना संक्रमित मरीजों पर बहुत ही सकारात्मक परिणाम दिखाए हैं। परीक्षण में पाया गया कि इस दवा से वायरस तेजी से खत्म होता है। कंपनी का दावा है कि अन्य एंटीवायरल दवाओं की तुलना में इस दवा के कई फायदे हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password