जीत और रोहित की वापसी से मजबूत बना भारत सिडनी में समीकरण बदलने को तैयार

सिडनी, छह जनवरी (भाषा) केवल दस दिन के अंदर फर्श से अर्श पर पहुंचने और ‘बिग हिटर’ रोहित शर्मा की वापसी से मजबूत बनी भारतीय टीम आस्ट्रेलिया के खिलाफ गुरुवार से यहां शुरू होने वाले तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में विजय क्रम जारी रखकर बोर्डर-गावस्कर ट्राफी पर अपना अधिकार बरकरार रखने की कोशिश करेगी।

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) में भारतीय बल्लेबाजों ने कुछ यादगार पारियां खेली हैं लेकिन यह टीम के लिये भाग्यशाली मैदान नहीं रहा है क्योंकि उसे यहां छह मैचों में पराजय का सामना करना पड़ा। उसने एससीजी पर एकमात्र जीत 42 साल पहले हासिल की थी।

अगर अजिंक्य रहाणे की टीम सिडनी में इतिहास रचकर 2-1 से बढ़त हासिल कर लेती है तो फिर बोर्डर-गावस्कर ट्राफी उसके पास ही बनी रहेगी और यह भारतीय क्रिकेट में सबसे यादगार पलों में से एक होगा। यह इसलिए भी विशिष्ट होगा क्योंकि भारत अपने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज विराट कोहली और दो प्रमुख तेज गेंदबाजों के बिना इसे हासिल करेगा।

ऐसा हर समय नहीं होता जबकि स्टीव स्मिथ जैसे बल्लेबाजों से सजी आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी को भारतीय गेंदबाजों ने दहशत में डाला हो। मोहम्मद शमी के बाद उमेश यादव के भी बाहर होने के बावजूद भारतीय आक्रमण ने अपना दबदबा कायम रखा है।

तेज गेंदबाज नवदीप सैनी इस मैच से टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करेंगे। वह उमेश की जगह लेंगे।

आस्ट्रेलिया पर भारतीय गेंदबाजों ने किस तरह से दबाव डाला है इसका प्रमाण यह है कि वह 70 प्रतिशत फिट डेविड वार्नर को उतारने की तैयारी कर रहा है ताकि अधर में लटकी उनकी बल्लेबाजी की नैया पार लग सके। आस्ट्रेलियाई टीम अपनी बल्लेबाजी को लेकर कितनी मायूस है उसका अंदाजा कप्तान टिम पेन के बयान से लगाया जा सकता है।

पेन ने मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘वह (वार्नर) ऊर्जावान और पेशेवर खिलाड़ी है जो तुरंत प्रभाव छोड़ सकता है और बाकी खिलाड़ियों में आत्मविश्वास भर सकता है। ’’

ऐसी परिस्थितियों में रोहित शर्मा भारतीय टीम से जुड़ते हैं जो इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलते समय चोटिल होने के कारण सीमित ओवरों की श्रृंखला और पहले दो टेस्ट मैचों में नहीं खेल पाये थे।

आस्ट्रेलिया आने पर सिडनी के एक अपार्टमेंट में दो सप्ताह तक पृथकवास पर रहने के बाद रोहित टीम से जुड़े लेकिन मेलबर्न के एक रेस्तरां में एक उत्साही प्रशंसक के कारण उनके और चार अन्य भारतीय खिलाड़ियों के खिलाफ संभावित जैव सुरक्षा उल्लंघन के लिये जांच बिठायी गयी।

लेकिन रोहित इतने अनुभवी और पेशेवर खिलाड़ी हैं कि इन सब चीजों से उनका ध्यान भंग नहीं होगा और इसका सबूत मंगलवार को मिला जब उन्होंने नेट पर जमकर अभ्यास किया और रविचंद्रन अश्विन जैसे गेंदबाजों का सहजता से सामना किया।

उनकी उपस्थिति से टीम और युवा खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ेगा और यही वजह है कि उन्हें चेतेश्वर पुजारा की जगह उप कप्तान नियुक्त किया गया।

सिडनी का विकेट पारंपरिक तौर पर बल्लेबाजों के अनुकूल रहा है तथा यहां सुनील गावस्कर, रवि शास्त्री, सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और यहां तक कि पिछले दौरे में पुजारा और ऋषभ पंत ने भी शतक जमाये थे।

अगर रोहित और शुभमन गिल टीम को अच्छी शुरुआत दिलाते हैं तो इससे पुजारा को राहत मिलेगी जो पहले दो टेस्ट मैचों में लचर प्रदर्शन करने के कारण दबाव में हैं। रहाणे पिछले मैच में शतक और जीत के बाद मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, पैट कमिन्स और नाथन लियोन का सामना करने के लिये आत्मविश्वास के साथ क्रीज पर उतरेंगे।

केएल राहुल के चोटिल होने के कारण हनुमा विहारी को मध्यक्रम में एक और मौका मिला है क्योंकि रोहित के लिये शीर्ष क्रम में मयंक अग्रवाल ने जगह खाली की है जो श्रृंखला के पहले दो मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये थे।

लेकिन वह आस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी है जिसे पारंपरिक तौर पर स्पिन गेंदबाजों को मदद देने वाले विकेट पर अश्विन जैसे गेंदबाज का सामना करना है। अश्विन ने अभी तक 10 विकेट लिये हैं और वह स्मिथ और मार्नस लाबुशेन जैसे खिलाड़ियों के खिलाफ जंग में खुद को अव्वल साबित करने में सफल रहे हैं।

आस्ट्रेलिया स्मिथ के फार्म में लौटने को लेकर बेताब है और इसके साथ ही वह ट्रेविस हेड जैसे बल्लेबाजों से भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद कर रहा होगा लेकिन जसप्रीत बुमराह की अगुवाई वाला भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण उन्हें पिछले मैचों की तरह दबाव में रखने की पूरी कोशिश करेगा।

बुमराह के साथ मोहम्मद सिराज या सैनी में से कोई एक नयी गेंद संभालेगा। इन दोनों के सामने हालांकि बड़ी जिम्मेदारी होगी क्योंकि उन्हें मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा जैसे गेंदबाजों द्वारा तय किये गये उच्च मानदंडों पर खरा उतरना होगा।

टीमें इस प्रकार हैं।

भारत : रोहित शर्मा, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (कप्तान), हनुमा विहारी, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद सिराज, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी।

आस्ट्रेलिया : डेविड वार्नर, मैथ्यू वेड, विल पुकोवस्की, मार्नस लाबुशेन, स्टीव स्मिथ, ट्रैविस हेड, कैमरन ग्रीन, टिम पेन (कप्तान और विकेटकीपर), नाथन लियोन, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, मार्कस हैरिस, मिशेल स्वेपसन, माइकल नेसर।

मैच भारतीय समयानुसार सुबह पांच बजे शुरू होगा।

भाषा

पंत

पंत

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password