Corona Vaccine Center: वैक्सीन की ‘कमी’ के कारण 11 जिलों में टीकाकरण अभियान रोका गया

भुवनेश्वर। (भाषा) ओडिशा सरकार ने कोविशील्ड खुराकों की ”भारी किल्लत” के चलते बुधवार को 11 जिलों में कोविड-19 टीकाकरण रोक दिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अंगुल, बालांगीर, बालासोर, भद्रक, ढेंकनाल, गंजाम, झारसुगुड़ा, केन्द्रपाड़ा, कोरापुट और सोनपुर में दिन में टीकाकरण की कवायद अस्थायी रूप से रोक दी गई। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अधिकारियों से कोविड ​​-19 की संभावित तीसरी लहर से पहले टीकाकरण प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए कहा था, जिसके बाद अधिकारी 21 जून से हर दिन 3 लाख से अधिक पात्र लाभार्थियों को टीकों की खुराक दे रहे थे।एक अधिकारी ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को केवल 1.18 लाख खुराकें प्रदान कीं।

कोविशिल्ड की 38,380 शीशियों का भंडार

भुवनेश्वर नगर निगम क्षेत्र में लोगों को कोवैक्सीन की खुराक दी जा रही है जबकि राज्य के अन्य हिस्सों में कोविशील्ड वैक्सीन का इस्तेमाल किया जा रहा है।स्वास्थ्य विभाग के एक अन्य अधिकारी ने कहा, ”मंगलवार को, केंद्रपाड़ा और बालासोर में टीकाकरण अभियान नहीं चलाया गया । आज, अधिकारियों ने खुराक की भारी कमी के कारण 11 जिलों में टीकाकरण कार्यक्रम रोक दिया है। राज्य के पास आज सुबह तक कोविशिल्ड की 38,380 शीशियों का भंडार था और अगला आवंटन 2 जुलाई को होने की संभावना है।

कुल 1.18 करोड़ खुराकें लगाई जा चुकी

अधिकारियों ने कहा कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री एन के दास ने हाल ही में केंद्र से जून में टीकाकरण कार्यक्रम को सुचारू रूप से चलाने के लिए कोविशील्ड वैक्सीन की कम से कम 6 लाख खुराक आवंटित करने का अनुरोध किया था। उन्होंने कहा कि ओडिशा में अब तक कुल 1.18 करोड़ खुराकें लगाई जा चुकी हैं। ओडिशा में बुधवार को संक्रमण के 3,3 71 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 9,09,800 हो गई। इसके अलावा कम से कम 48 और रोगियों की मौत के साथ ही मृतकों की तादाद 4,018 तक पहुंच गई है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password