Unique tradition: यहां कीचड़ में नाचकर बारातियों का करते हैं स्वागत, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल -



Unique tradition: यहां कीचड़ में नाचकर बारातियों का करते हैं स्वागत, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

Unique tradition

सरगुजा। शादियों में हमने अक्सर देखा है कि लोग बरातियों का स्वागत नाच गाने या आतिशबाजी के साथ करते हैं। लेकिन छत्तीसगढ़ के मैनपाट में मांझी समुदाय की एक अनूठी परंपरा है। यहां लोग बारातियों का स्वागत कीचड़ में नाच कर करते हैं।

मांझी समुदाय वर्षों से इस परंपरा का पालन कर रहा है

छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले के मैनपाट में रहने वाले मांझी जनजाति के लोग वर्षों से इस परंपरा को निभा रहे हैं। सोशल मीडिया पर भी बरातियों के स्वागत का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें मांझी समुदाय के लोग परम्परा के अनुसार बारात का स्वागत कीचड़ में लेटकर कर रहे हैं।

Unique tradition

गोत्र के अनुसार करते हैं बारात का स्वागत

जब भी इस जनजाति में विवाह होता है और बारात आती है तो इस जनजाति के लोग अपने गोत्र के अनुसार बारात का स्वागत करते हैं। भैंसा गोत्र के लोग बारात आगमन पर कीचड़ में लोटते हैं और एक दूसरे पर कीचड़ लपेट कर बारात का स्वागत करते हैं। जबकि सुगा गोत्र के लोग जब बारात लेकर आते हैं तो उनके स्वागत में तोते की तरह आवाज निकाली जाती है।

Unique tradition

अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है मैनपाट

उंचे-उंचे पहाड़ों और झरनों के बीच बसा मैनपाट अपनी विविधताओं के लिए जाना जाता है। घने जंगलों, वन्य जीव और सालों पड़ने वाले ठंड के कारण यहां हमेशा पर्यटकों का तांता लगा रहता है। कई लोग तो इसे छत्तीसगढ़ के शिमला के नाम से भी जानते हैं।ॉ

Unique tradition

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password