Ujjain News: उज्जैन में दो समुदायों के बीच पथराव से मची अफरा तफरी, सड़कों पर बिखरी पड़ी थीं गाड़ियां, अब स्थिति शांतिपूर्ण

Ujjain News: उज्जैन में दो समुदायों के बीच पथराव से मची अफरा तफरी, सड़कों पर बिखरी पड़ी थीं गाड़ियां, अब स्थिति शांतिपूर्ण

Ujjain News: मध्य प्रदेश के उज्जैन (Ujjain Madhya Pradesh) जिले में क्रिमसम वाले दिन यानी शुक्रवार शाम दो समुदायों के बीच मामूली विवाद पर पथराव हो गया। देखते ही देखते इलाके का माहौल तनावपूर्ण हो गया। पथराव की वजह से करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए। हालांकि मौके पर पहुंची पुलिस- प्रशासन की टीम ने लोगों को समझाकर हालात पर नियंत्रण पाया। अब स्थिति पूरी तरह शांतिपूर्ण है।

हिंदूवादी संगठनों की रैली पर पथराव
दरअसल पूरी घटना उज्जैन के बेगमबाग इलाके की है। यहां हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने अयोध्या राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह कार्यक्रम को लेकर रैली निकाली थी। यह रैली जब शहर के बेगमबाग इलाके में पहुंची तो अचानक इन लोगों पर पथराव हो गया। काफी देर तक पथराव चलता रहा। माहौल तनावपूर्ण हो गया और कुछ देर पर सड़कों पर सिर्फ गाड़ियां बिखरी पड़ी नजर आईं। हालांकि, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने तत्काल कार्रवाई की और स्थिति को नियंत्रण में कर लिया।

राममंदिर निर्माण के लिए धनराशि इकट्ठा करने को लेकर थी बैठक
जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार शाम माधव सेवा न्यास में बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें राममंदिर निर्माण के लिए धनराशि एकत्र करने के संबंध में चर्चा होनी थी। बैठक में शामिल होने के लिए ही हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ता बाइक रैली के रूप में महाकाल थाना क्षेत्र में माधव सेवा न्यास आ रहे थे। इसी दौरान बेगमबाग इलाके में रैली में शामिल एक बाइक सवार की किसी व्यक्ति से टक्कर हो गई। इसी टक्कर को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि बात झूमाझटकी से लेकर पथराव तक पहुंच गई।

महिलाओं और बच्चों ने भी छतों से फेंके पत्थर
टक्कर से शुरू हुए विवाद के बाद दूसरे समुदाय के महिलाओं और बच्चों ने भी घरों की छतों से रैली में शामिल वाहनों पर जमकर पत्थर फेंके। पथराव की वजह से वहां खड़ी दो कार, दो ऑटो, एक जीप और बाइक क्षतिग्रस्त हो गई। कई लोगों को चोट भी लगी। घटना के बाद एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला, कलेक्टर आशीष सिंह मौके पर पहुंचे और भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई।

दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई
उज्जैन के कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया, फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। घटना के वीडियो फुटेज और अन्य सबूतों के आधार पर दोषियों की पहचान की जा रही है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password