Two Divyang sisters Story: दिव्यांग बहनों ने एक खास मिसाल की पेश

Two Divyang sisters Story: दिव्यांग बहनों ने एक खास मिसाल की पेश, फर्स्ट क्लास का बनाया स्थान

हैदराबाद। Two Divyang sisters Story जहां पर हौंसले बुलंद हो तो आप जो चाहते है उसे भी पूरा कर सकते है एक खास खबर तेलगांना से सामने आई है जहां पर हैदराबाद की रहने वालीं दो दिव्यांग बहनें वीणा और वाणी ने तेलंगाना इंटरमीडिएट का एग्जाम फर्स्ट क्लास कैटगेरी में पास करके एक मिसाल पेश की है।

रिजल्ट में पाया अव्वल दर्जा

आपको बताते चलें कि, ये दोनों बहने जन्म से ही सिर से एक-दूसरे से जुड़ी है जहां पर उनकी इस अक्षमता ने कभी भी उनके हौंसले को कम नहीं किया और उन्होने मिसाल रची है। बता दें कि, तेलंगाना स्टेट बोर्ड ऑफ इंटरमीडिएट एजुकेशन ने इंटर फर्स्ट एंड सेकंड ईयर के स्टूडेंट्स के लिए रिजल्ट जारी किए थे। इससे पहले वीणा को 10वीं की परीक्षा में 9.3 ग्रेड और वाणी को 9.2 ग्रेड मिले थे। वीणा-वाणी की उपलब्धि पर स्कूल डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने भी बधाई दी। वाणी और वीना ने कहा कि वे चार्टर्ड एकाउंटेंट(CA) बनना चाहती हैं। इसके लिए वे फाउंडेशन कोर्स ज्वाइन करेंगी।

 

परीक्षा देने में आई थी कई दिक्कतें

आपको बताते चलें कि, स्कूल डिपार्टमेंट के अधिकारियों को समझ नहीं आ रहा था कि इन्हें एक स्टूडेंट मान जाए या दो अलग-अलग। जहां पर उन्होने परीक्षा के दौरान स्पेशल प्रिविलेट यानी कोई सहायता लेने से मना कर दिया था। उन्होंने सामान्य स्टूडेंट्स की तरह एग्जाम दिया। हालांकि उनके बैठने का जरूर खास इंतजाम किया गया था, ताकि वे ठीक से लिख सकें। बता दें कि, इनके माता-पिता ने बचपन में ही छोड़ दिया था। इस समय वे एक संस्था में रहती हैं। दोनों बहनें हमेशा एक-दूसरे के साथ रहना चाहती हैं। बता दें कि, दोनों बहने एक साथ ही रहना चाहती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password